अखिलेश यादव ने प्रभु को लिखा खत, राज्य की जरुरतों से कराया अवगत

Feb 23 2016 05:39 PM
अखिलेश यादव ने प्रभु को लिखा खत, राज्य की जरुरतों से कराया अवगत

लखनऊ। इंटरनेट के जमाने में उत्तर प्रदेश के सीएम अखिलेश यादव ने रेल मंत्री सुरेश प्रभु को खत लिखा है। अखिलेश ने राज्य की कुछ खास जरुरतों की ओर ध्यान केंद्रित करते हुए कुछ प्रस्तावों को आगामी रेल बजट में पास करने का आग्रह किया है। मुख्यमंत्री ने प्रभु से इटावा-मैनपुरी के बीच बड़ी रेललाइन का काम इसी वितीय वर्ष में पूरा करने की अपील की है।

उन्होने इसके लिए अनुरोध किया है कि आगामी रेल बजट में इसके लिए प्रावधान लाया जाए। साथ ही उन्होंने कन्नौज से कानपुर रेलखण्ड के तहत मन्धना से अनवरगंज के बीच की रेलवे लाइन को हटाते हुए नये मन्धना-पनकी बाईपास रेलवे ट्रैक के निर्माण का आग्रह भी किया है।

इतना ही नही अखिलेश ने शहर को सड़क जाम से मुक्ति दिलाने के लिए रेलवे क्रांसिंग के उपर पुल बनाने, लखनऊ में ऐशबाग रेलवे स्टेशन को चारबाग रेलवे स्टेशन के तौर पर विकसित करने और इलाहाबाद तथा कानपुर के बीच तीसरी रेल लाइन बिछाने का भी अनुरोध किया है।

इसके अलावा मुख्यमंत्री ने रेल मंत्री को यह भी बताया है कि प्रदेश सरकार अपने संसाधनों से लखनउ-आगरा के बीच ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे का निर्माण करा रही है। अगर केंद्र सरकार इस एक्सप्रेस-वे के समानान्तर एक नई रेलवे लाइन या बुलेट ट्रेन की परियोजना लाती है तो प्रदेश सरकार इसके लिए पूर्व में अधिग्रहीत भूमि में से मंत्रालय को मुफ्त जमीन देने को तैयार है।

 

बजट में सेवाकर 16-18 प्रतिशत करने का प्रस्ताव ला सकते हैं वित्त मंत्री

बजट में रेल किराए की छूट के लिए आधार हो सकता है अनिवार्य

पेट्रोल और डीजल पर एक्साइज़ ड्यूटी में कटौती से सस्ता होगा ईंधन

आगामी बजट में खत्म हो सकती है चीनी की सब्सिडी

आम बजट में बढ़ सकता है सेवा कर का बोझ