चित्रकूट: जुड़वा भाइयों की हत्या पर अखिलेश का ट्वीट, अब बच्चों को स्कूल भेजने से डरेंगे माँ-बाप

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने चित्रकूट के बहुचर्चित तेल व्यवसायी के जुड़वां बच्चों के अपहरण और उसके बाद हत्या मामले पर एक ट्वीट करते हुए देश की क़ानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने ट्वीट में लिखा है कि 'आज बाँदा में दो मज़लूम बच्चों की लाशें मिलीं। उनकी जानें गयीं और एक परिवार का भविष्य उजड़ गया। सरकारों की ज़िम्मेदारी है कि हर नागरिक को सुरक्षित रखे और दुःख है कि हाल यह है कि माँ बाप बच्चों को स्कूल भेजने से भी डरेंगे! देश की क़ानून व्यवस्था अब इससे ज़्यादा क्या बिगड़ेगी?'

पुलवामा हमले पर कुमार विश्वास का राजनेताओं को कड़ा सन्देश, कहा- अगर कुत्ता पागल हो जाए तो...

पुलिस ने अपहरण और हत्या के इस मामले में मुख्य आरोपी पदम शुक्ला को चित्रकूट से ही गिरफ्तार किया है। इस बारे में रीवा के आईजी चंचल शेखर ने जानकारी देते हुए बताया है कि आरोपियों ने 21 फरवरी को बच्चों की हत्या की थी। उल्लेखनीय है कि 12 फरवरी को पिस्तौल की नोक पर दिन दहाड़े स्कूली बस से तेल व्यवसायी के जुड़वा बेटों का फिल्मी स्टाइल में अपरहण किया गया था। अपरहण के कई दिनों तक बाद मध्य प्रदेश पुलिस व उत्तर प्रदेश पुलिस केवल हाँथ पैर मारती रही, लेकिन अपरहणकर्ताओ को पकड़ नहीं सकी।

स्मृति ईरानी ने राहुल गाँधी को घेरा, पुछा अमेठी के लिए क्या किया ?

अपहरणकर्ताओ ने तेल कारोबारी ब्रजेश रावत से 20 लाख रुपए फिरौती के तौर पर मांगें थे, जिसके बाद परिवार वालों ने अपरहणकर्ताओ को उनके बताए ठिकाने पर रुपए भेज दिए थे। किन्तु फिरौती की रक़म मिलने के बाद भी अपरहणकर्ताओ ने दोनों बच्चों को मारकर उनकी लाशों को यमुना नदी में फेंक दिया था, इस मामले में पुलिस ने अब मुख्य आरोपी पदम शुक्ला को उसके 6 साथियों समेत हिरासत में ले लिया है। जानकारी के अनुसार अपहरणकर्ताओं ने बच्चों से पूछा कि क्या तुम हमें पहचान लोगे, इस पर बच्चों ने हामी भरी। इसी के बाद अपहरणकर्ताओं ने दोनों बच्चों को हाथ-पैर बांध कर यमुना नदी में फेंक दिया।

खबरें और भी:-

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा- मेरी पत्नी मुझसे ज्यादा काबिल

लालू के साले ने किया नितीश कुमार का महिमामंडन, तेजस्वी को कहा बच्चा

अपनी ही पार्टी के खिलाफ बोल गए जी परमेश्वर, कहा कांग्रेस में मौजूद दलित विरोधी लोग

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -