किसान आंदोलन के दौरान अखिलेश ने उछाला गन्ना किसानों का मुद्दा, सियासत में मची खलबली

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि उत्तर प्रदेश के गन्ना किसान के साथ भाजपा सरकार ने बहुत बड़ा धोखा किया है. उन्होंने कहा कि सरकार ने नवंबर के अंत तक चीनी मिलों में पेराई शुरू करने का वचन दिया था. समय सीमा समाप्त हो चुकी है, इसके बाद भी अभी तक मिलों में पेराई शुरू नहीं हुई है. 

आनंद महिंद्रा का ओपेन चैलेंज, जीतने वाले को दी जाएगी महिंद्रा की मॉडल कार

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक लागत में भारी बढ़ोत्तरी होने के बाद भी गन्ने के समर्थन मूल्य में बढ़ोत्तरी न होने से किसान निराश है, अखिलेश ने शनिवार को दिए गए बयान में कहा कि भाजपा सरकार ने दिखावे और किसानों को बहकाने के लिए 44 चीनी मिलों को 2619 करोड़ रुपये का सॉफ्ट लोन दिया है, जिससे किसानों को कोई फायदा पहुंचने वाला नहीं है.

राजस्थान में प्रशासन से नाराज़ हैं मुस्लिम समुदाय, कहा एक तरफ कुआँ दूसरी तरफ खाई

अखिलेश ने कहा कि सच तो ये है कि बीजेपी को किसानों की नहीं बल्कि चीनी मिल मालिकों के हितों की फ़िक्र है, क्योंकि भाजपा की नीतियां ही पूंजी घरानों की पक्षपाती रही हैं. उल्लेखनीय है कि चीनी मिलों को शनिवार तक 3066 करोड़ रुपये का सॉफ्ट लोन दिया जा चुका है. आपको बता दें कि योगी सरकार ने चीनी मिलों के लिए 4 हजार करोड़ रुपये के सॉफ्ट लोन की व्यवस्था की थी, ताकि किसानों को गन्ना मूल्य का भुगतान समय से किया जा सके.

खबरें और भी:-

आनंद महिंद्रा का ओपेन चैलेंज, जीतने वाले को दी जाएगी महिंद्रा की मॉडल कार

दीपवीर वेडिंग : रेखा से लेकर शबाना आज़मी तक सभी के दिखे जलवे, सबसे अलग नज़र आई कल्कि कोचलिन

सिद्धू के कप्तान वाले बयान से उठा सियासी तूफ़ान, देना पड़ सकता है इस्तीफा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -