अखिलेश यादव का ऐलान, ''ना मैं भरूंगा NPR का फॉर्म और ना ही सपा का कोई कार्यकर्ता भरेगा''

अखिलेश यादव का ऐलान, ''ना मैं भरूंगा NPR का फॉर्म और ना ही सपा का कोई कार्यकर्ता भरेगा''

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री अपनी कुर्सी बचाने के लिए ही प्रदेश में उत्पात मचवा रहे हैं। उनके खिलाफ 200 भाजपा MLA धरने पर बैठ गए हैं, जिसके बाद से ही वह भयभीत हैं कि कहीं उनकी कुर्सी न चली जाए। प्रेस वार्ता के दौरान अखिलेश यादव ने घोषणा है कि न तो वे स्वयं राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) का फॉर्म भरेंगे और नही कोई सपा का कार्यकर्ता इस फॉर्म को भरेगा।

अखिलेश यादव ने आगे कहा कि, आज खुशी का दिन है। बड़ी तादाद में नौजवान यहां मौजूद हैं। छात्रसंघ चुनाव जीतने वाले तमाम नौजवानों को बधाई। भाजपा के कार्यकताओं ने नौजवानों को घेरा और तोड़फोड़ की। नौजवानों को पीटने वाले और एसओ को मारने वालों पर कार्रवाई नहीं हुई। वाराणसी में नौजवानों के साथ एसओ को भी पीटा, किन्तु इन्साफ नहीं मिला। पार्टी के लोग मुकदमों से नहीं डरते। सीएम योगी जब मुकदमे वापस ले रहे हैं तो आपके केस सरकार आते ही वापस होंगे। सपा कार्यकर्ताओं पर दर्ज हो रहे सब केस वापस होंगे।

अखिलेश ने कहा कि CAA और NRC से आम लोगों के खिलाफ है। हिंसा के दौरान मारे गए लोगों की सहायता सरकार को करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि लोगों से 50 वर्ष पुराने दस्तावेज मांगे जा रहे हैं, लोग कहां से लाएंगे। उन्होंने कहा कि देश में भाजपा इतिहास बनाकर ही जाएगी, किन्तु वह इतिहास आर्थिक विकास की मंदी का होगा। आने वाले दौर में भाजपा में ऐतिहासिक गिरावट देखी जाएगी।

अखिलेश यादव का दावा, बीजेपी के कई विधायक सीएम योगी के विरुद्ध

पुडुचेरी सीएम नारायणसामी को किरण बेदी का खुला खत, लगाए संगीन आरोप

ठाकरे के खिलाफ आयी विवादित टिप्पणी, शिवसेना ने दिया मुहतोड़ जबाव