उत्तराखंड : अखिलेश यादव ने की सपा की पूरी प्रदेश कार्यकारणी भंग

Dec 17 2018 04:51 PM
उत्तराखंड : अखिलेश यादव ने की सपा की पूरी प्रदेश कार्यकारणी भंग

देहरादून : आगामी लोकसभा चुनाव से पहले ही राजनीतिक पार्टियों में उठापटक का दौर भी प्रारंभ हो गया है। इसकी शुरुआत समाजवादी पार्टी से हुई है। सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बड़ी राजनीतिक कार्रवाई करते हुए पार्टी की पूरी प्रदेश कार्यकारिणी को तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया है। इस कार्रवाई को हाल ही में हुए नगर निकाय चुनाव में पार्टी की करारी हार के साथ ही प्रदेश अध्यक्ष व अन्य पदाधिकारियों के बीच जारी राजनीतिक विवाद से भी जोड़कर देखा जा रहा है।

कई दिनों से चल रही थी उठापटक - पिछले माह पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने दो प्रदेश महासचिव समेत तीन अन्य पदाधिकारियों को संगठन से बाहर कर दिया था। बाद में यह मामला पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव तक पहुंचा था। इसके बाद उन्होंने तीन दिन पहले ही प्रदेश अध्यक्ष के फैसले पर रोक लगाते हुए तीनों पदाधिकारियों को यथावत बने रहने का फरमान जारी कर दिया था। इस राजनीतिक उठापटक  के बाद पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के बीच इस बात के कयास लगाए जा रहे थे कि लोकसभा चुनाव से पहले कोई बड़ा फेरबदल हो सकता है। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार चुनाव के दौरान पार्टी प्रदेश अध्यक्ष ने पार्टी अध्यक्ष से अनुमति लिए बगैर ही हरिद्वार, रुद्रपुर, काशीपुर व कोटद्वार जैसी सीटों पर कांग्रेस को समर्थन दे दिया था। इस बात को लेकर भी पार्टी आलाकमान प्रदेश अध्यक्ष से खफा हो गया था। 

तीसरी बार राजस्थान के सीएम बनें 'अशोक', पायलट ने ली उपमुख्यमंत्री पद की शपथ

योगी के फॉर्मूले से बिजली विभाग ने बचाये इतने रूपये

राजस्थान के बाद बाद भोपाल पहुंची दिग्गजों की टोली, 15 साल बाद खिलाएंगी कांग्रेस का 'कमल'