अखिलेश यादव का भाजपा पर गंभीर आरोप, कहा- BJP ने आपसी भाईचारे में घोला जहर

अखिलेश यादव का भाजपा पर गंभीर आरोप, कहा- BJP ने आपसी भाईचारे में घोला जहर

लखनऊ: समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने 12 से ज्यादा कवियों और शायरों के साथ मुलाकत की है. इस दौरान उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राजनीति को धोखा देने वाला कहा है.यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा ने सामजिक तानाबाना तोड़ दिया है. उन्होंने आपसी भाईचारे में जहर घोला है. 

अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा ने आपसी भाईचारे में जहर घोलने का काम किया है और धर्म एवं जाति की सियासत का प्रदूषण फैलाया है. अखिलेश ने आगे कहा कि अपराधिक सियासत से देश को बचाना है. सियासत में अच्छे लोग आएंगे तो सियासत स्वस्थ्य होगी, नफरत की हार सुनिश्चित है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भाजपा पर हमलावर अखिलेश ने कहा कि ज्यादातर भारतीय आज भी सामाजिक रूप से उदार, सियासी रूप से समझदार और धर्म जैसे निजी विषय को राजनीति के मंच में घसीटकर अपना सियासी फूल खिलाने वालों के खिलाफ हैं.

उन्होंने भाजपा पर आरक्षण व्यवस्था को कमजोर करने का भी इल्जाम लगाया है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि दलित-वंचित समाज को उपेक्षित व अपमानित किया जा रहा है. नागरिकता कानून पर बोलते हुए यादव ने कहा कि औरतों को भी आजादी का परचम उठाने का अधिकार है. संघर्ष कभी हिन्दू-मुसलमान नहीं हो सकता. भाजपा बदले और विद्वेष की भावना से विपक्ष पर निशाना साध रही है. उसे अपनी कुनीतियों का विरोध देशद्रोह लगता है.

लाहौर कोर्ट से नवाज़ शरीफ को बड़ी राहत, मेडिकल ग्राउंड पर दी पेशी से छूट

शरणार्थी शिविर में ईसाईयों को घर में घुसकर पीटा, चर्च और स्कूल में की तोड़फोड़

राज ठाकरे ने कड़े शब्दों में घुसपैठियों के प्रति बोली ये बात