आखिर रहाणे ने बता ही दी अपने मन की बात

नई दिल्ली : पिछले कुछ समय से वन-डे और टी-20 टीम से बाहर चल रहे अजिंक्य रहाणे की नाराजगी उभरकर सामने आ चुकी है। सिर्फ टेस्ट टीम में खेलने वाले रहाणे ने को नीली जर्सी पहने एक साल से ज्यादा हो गए। रहाणे ने आखिरी बार फरवरी 2018 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन में वन-डे खेलने वाले रहाणे को उम्मीद है कि वे मई में इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप टीम में होंगे। 

टेस्ट मैच के दूसरे दिन भारतीय अंडर-19 टीम ने बनाएं 395 रन

कुछ ऐसा बोल गए रहाणे 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार रहाणे ने कहा, 'मैं बल्लेबाज के तौर पर आक्रामक हूं, लेकिन व्यवहार से मैं कम बोलने वाला व्यक्ति हूं। मैं अधिक बात करना पसंद नहीं करता, मैं अपने बल्ले को बोलने देता हूं, लेकिन कई बार सच कहना जरूरी हो जाता है। मेरा मानना है कि टीम सबसे पहले है और मैंने हमेशा टीम मैनेजमेंट, सिलेक्टर्स के फैसले का सम्मान किया है और ऐसा करता रहूंगा। लेकिन अंत में यह जरूरी है कि मैं जो प्रयास कर रहा हूं उसे स्वीकार किया जाए। एक खिलाड़ी के तौर पर मैं महसूस करता हूं कि टीम के लिए अच्छा करने को सभी को लगातार मौके की आवश्यकता है।

कोहली ने बनाया एक ऐसा विराट रिकॉर्ड

यह चाहते है रहाणे 

जानकारी के लिए बता दें वेस्टइंडीज और घरेलू सीरीज में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ओपनिंग करते हुए अच्छी बल्लेबाजी के बावजूद रहाणे को साउथ अफ्रीका में मध्य क्रम में स्थान मिला था। ड्रॉप होने से पहले पिछली तीन-चार सीरीज में उनका औसत 45 से 50 के करीब था। इसके बाद उन्हें ड्रॉप कर दिया गया। रहाणे आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स टीम की कप्तानी करते हैं। रहाणे ने कहा कि मैं टीम के लिए समर्पित हूं तो मुझे पर्याप्त मौका मिले। मैं बस इतना चाहता हूं।

वेस्टइंडीज को 29 रनों से हराकर इंग्लैंड ने बनाई सीरीज में बढ़त

वेस्टइंडीज के तूफानी खिलाड़ी ने फिर बरपाया कहर, लग गई रिकार्ड्स की झड़ी

मैक्सवेल के शानदार शतक की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने जमाया सीरीज पर कब्जा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -