जाट रिज़र्वेशन : एयरलाइन कंपनियां उठा रही भरपूर लाभ

Feb 22 2016 10:14 AM
जाट रिज़र्वेशन : एयरलाइन कंपनियां उठा रही भरपूर लाभ

नई दिल्ली : जाट आरक्षण को लेकर हर तरफ माहोल गरमाता हुआ नजर आ रहा है. लेकिन इसकी आग फ़िलहाल हरियाणा में कुछ अधिक ही देखने को मिल रही है. एक तरफ जहाँ इस आंदोलन ने देश की सरकार को सोंचने पर मजबूर कर दिया है तो दूसरी तरफ यह देखने को मिला है कि कई एयरलाइन्स कम्पनियो ने इस दौरान अधिक पैसा कमाने का मन बनाया है. देखने को मिल रहा है कि दिल्ली से चंडीगढ़ तक जाने वाली एक घंटे की फ्लाइट का किराया इसके तहत 1 लाख रुपए तक भी देखने को मिल रहा है.

जबकि आपको बता दे कि आमतौर पर यह किराया ढाई से तीन हजार रुपए तक ही होता है. इसके साथ ही यह भी देखने को मिल रहा है कि एविएशन मिनिस्ट्री के ऑर्डर पर एयर इंडिया, इंडिगो, जेट एयरवेज और स्पाइस जेट के द्वारा एक्सट्रा फ्लाइट भी ऑपरेट की जा रही है. फ्लाइट्स की संख्या तो इस दौरान बढ़ गई है लेकिन आइल साथ ही किराया आसमान को छू रहा है. बता दे कि बीते मंगलवार को यह किराया 12 से 15 हजार रुपए तक देखने को मिला था.

जबकि साथ ही वाया मुंबई जाने वाली वन स्टॉप फ्लाइट के लिए 31 हजार रुपए किराया वसूला गया. इस मामले में जेट एयरवेज का जो बयान सामने आया है उससे यह पता चला है कि सभी रूट्स के टिकिट्स बुक किए जा चुके है. और ट्रेवल पोर्टल्स के द्वारा किराया बहुत अधिक बताया जा रहा है जबकि कम्पनी के पोर्टल पर यह किराया कम है. एयरलाइन्स कम्पनियों के द्वारा इस आंदोलन के अंतर्गत काफी लाभ कमाया जा रहा है.