एयर इंडिया : 30 पायलेटों के लाइसेंस रद्द करने पर विचार

एयर इंडिया : 30 पायलेटों के लाइसेंस रद्द करने पर विचार

नई दिल्ली : हाल में ही यह खबर सामने आई थी कि एयर इंडिया से 30 वरिष्ठ बोइंग 787 ड्रीमलाइनर पायलटों ने इस्तीफा दिया था और अब इस बाद के कयास लगाये जा रहे है कि इन सभी पायलेटों के लाइसेंस भी रद्द किये जा सकते है. जी हाँ सूत्रों से यह बात सामने आई है कि गवर्नमेंट और संबंधित विभाग के द्वारा इन सभी 30 पायलेटों के लाइसेंस रद्द करने का विचार किया जा रहा है.

गौरतलब है कि 30 वरिष्ठ बोइंग 787 ड्रीमलाइनर पायलटों ने अपने पद से इस्तीफा दिया था. जानकारी में यह बात भी सामने आई थी कि जिन पायलटों ने भी अपने पद से इस्तीफा दिया है वे सभी सीनियर कॉ-पायलट है उन सभी को लगभग 4 हजार घंटे की औसत उड़ान का अनुभव भी है. साथ ही यह बात भी सुनने में आया था कि इन सभी पायलटों पर तीन साल पहले 15 करोड़ रूपये प्रशिक्षण में भी खर्च किये गए थे. साथ ही मामले में रिपोर्ट्स का कहना है कि ये पायलट किसी सिक्युरिटी बॉन्ड में बंधे हुए भी नहीं थे और साथ ही और अनुबंधातम्क दायित्व के तहत अपनी नौकरी छोड़ने के लिए आज़ाद भी थे.