'गुंजन सक्सेना' फिल्म को लेकर वायुसेना ने जताई आपत्ति, लिखा सेंसर बोर्ड को पत्र 

'गुंजन सक्सेना' फिल्म को लेकर वायुसेना ने जताई आपत्ति, लिखा सेंसर बोर्ड को पत्र 

काफी समय बाद अब बॉलीवुड में कई फ़िल्में आ रही है. वही नेटफ्लिक्स पर आज रिलीज होने वाली 'गुंजन सक्सेना-द कारगिल गर्ल' में बुरी छवि प्रदर्शित करने को लेकर वायुसेना ने कठोर आपत्ति व्यक्त की है. इसे लेकर वायुसेना ने सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ फिल्म सर्टिफिकेशन को लेटर लिखकर कम्प्लेन की है. वायुसेना ने सेंसर बोर्ड के अतिरिक्त नेटफ्लिक्स तथा धर्मा प्रोडक्शन को भी यह लेटर भेजा है. 

लेटर में लिखा गया है, 'आरंभिक समझौते के अनुसार धर्मा प्रोडक्शन ने कहा था कि फिल्म में इंडियन एयर फाॅर्स के सम्मान को बनाए रखा जाएगा. यह भी निर्धारित किया गया था कि यह मूवी आने वाली पीढ़ियों को एयर फाॅर्स में सम्मिलित होने के लिए प्रेरित करेगी.' पत्र के अनुसार, मगर फिल्म के ट्रेलर में कुछ सीन ऐसे हैं, जिसमें एयर फाॅर्स की छवि को नकारात्मक तौर पर दिखाया गया है. एएनआई को मिले इस लेटर में कहा गया है कि मूवी में पूर्व फ्लाइट लेफ्टिनेंट गुंजन सक्सेना के अभिनय का महिमामंडन करने के लिए धर्मा प्रोडक्शन ने कुछ ऐसी स्थिति उत्पन्न की, जो गुमराह करने वाली है. 

इसके साथ-साथ इसमें एयर फाॅर्स में महिलाओं के प्रति व्यवहार को भी सही ढंग से नहीं दिखाया है. गुंजन सक्सेना मूवी कारगिल युद्ध में सम्मिलित होने वाली प्रथम महिला पायलट पर आधारित है. 1999 की जंग में हिम्मत दिखाने के लिए उन्हें शौर्य वीर अवार्ड से नवाजा गया था. एयर फाॅर्स का कहना है कि सेना में लिंग के आधार पर भेदभाव नहीं किया जाता, तथा सभी को एक समान अवसर प्रदान किया जाता है. तीनों सेनाओं में एयर फाॅर्स ने ही सबसे पहले महिला अफसरों को मेडिकल ब्रांच के अतिरिक्त अन्य विभाग में भी कमीशन दिया था. इसी के साथ प्रोडक्शन की ओर से कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है. 

फोर्ब्स की टॉप 10 हाईएस्ट पेड एक्टर्स की लिस्ट में शामिल हुए इकलौते बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार

इमोशनल कर देगी लखनऊ की बेटी की कहानी, संघर्ष से मिलेगी प्रेरणा

स्वतंत्रता दिवस : हर भारतीय में जोश भर देते हैं ये 6 गाने, देशभक्ति से हैं ओत-प्रोत