एम्स हॉस्टल में छात्रा ने की आत्महत्या

नई दिल्ली : अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के महिला छात्रावास में मेडिकल की एक 17 वर्षीय छात्रा अपने कमरे में रविवार सुबह मृत पाई गई। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। छात्रा ने कमरे के पंखे से फांसी लगाकर आत्महत्या की, पुलिस ने कहा कि इस घटना की खबर छात्रावास की अन्य छात्राओं ने उन्हें रात करीब ढाई बजे दी और छात्राओं ने छात्रावास प्रशासन को भी इस बारे में सूचित किया, पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, "कमरा अंदर से बंद था, हमने दरवाजा तोड़ा और खुशबू को पंखे से लटकते पाया। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।"

इस बीच, एम्स के अधिकारियों ने छात्रा के परिवार को उसकी मौत की खबर दी और इसके साथ ही संस्थान ने आत्महत्या के पीछे के सही कारण का पता लगाने के लिए एक आंतरिक जांच शुरू कर दी हैम एम्स के प्रवक्ता अमित गुप्ता ने यहां जारी बयान में कहा, "छात्रा खुशबू चौधरी का शव परिसर में स्थित महिला छात्रावास में उनके कमरे में लटकता हुआ पाया गया। मृतक ने हाल ही में एमबीबीएस पाठ्यक्रम प्रथम वर्ष में दाखिला लिया था।"

एम्स प्रशासन ने प्रारंभिक जांच में रैगिग की संभावना से इंकार किया है, पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने सुराग के लिए मृतक का मोबाइल कब्जे में ले लिया है। हालांकि उसके कमरे से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।"

खुशबू के दोस्तों के अनुसार वह काफी खुश मिजाज लड़की थी और शनिवार का दिन अपने दोस्तों, खरीदारी और घूमने-फिरने में बिताती थी, मृतक की एक सहेली ने पुलिस को बताया कि आत्महत्या की घटना से कुछ घंटे पहले तक वह उनके साथ सामान्य व्यवहार कर रही थी, मृतक राजस्थान के बीकानेर की निवासी थी। उसने जुलाई में संस्थान में दाखिला लिया था।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -