AIMMS डायरेक्टर की खौफनाक भविष्यवाणी, कहा- इन दो महीनों में चरम पर होगा कोरोना

नई दिल्ली:  कोरोना महामारी के केस देशभर में लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं. इस बीच एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया का बड़ा बयान सामने आया है. उन्होंने कहा है कि जून-जुलाई में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ेंगे.  गुलेरिया ने कहा कि, 'दो चीजें देखने की आवश्यकता है, जैसे-जैसे मामले बढ़ रहे हैं, हमारी टेस्टिंग भी बढ़ी है. यदि हम सफलता चाहते हैं, तो टेस्टिंग भले ही बढ़े, मामले कम होने चाहिए. हमें सतर्क रहना चाहिए.'

उन्होंने कहा कि, 'लॉकडाउन का काफी फायदा मिला है. पहला फायदा ये है कि मामले जितने बढ़ते, उतने नहीं बढ़े हैं. जो हमारे साथ थे, उनके केस कितने अधिक हो गए हैं. लोगों को कोरोना अस्पताल, डॉक्टरों की ट्रेनिंग और टाइम मिला है.' गुलेरिया ने कहा कि, 'कोरोना पॉजिटिव मामलों की तादाद में आने वाले महीनों में और बढ़ोत्तरी देखी  जाएगी. जून-जुलाई में कोरोना संक्रमित मामले चारम पर होंगे यानी कि तेजी से बढ़ेंगे.'

उन्होंने कहा कि, 'पीक टाइम या 2-3 महीने के बाद ही पॉजिटिव मामलों की संख्या में ठहराव या कमी आएगी. सरकार को कोविड सेन्टर, टेस्टिंग में इजाफा करना चाहिए और हॉटस्पॉट इलाकों या जगहों में सख्ती बरकरार रखनी चाहिए.' गुलेरिया ने कहा कि, 'कोरोना के खिलाफ जंग, आवाम की लड़ाई है. ऐसे में लोगों को सहयोग करना होगा. सोशल डिस्टेंसिंग, सैनिटाइजर, हैंडवाश जैसे बुनियादी नियमों का पालन करना होगा.'

जानना चाहते हैं अपने PF अकाउंट का बैलेंस ? बस इस नंबर पर करना होगा मिस कॉल

अब आपके घर तक शराब पहुंचाएगा Zomato, जल्द शुरू हो सकती है सर्विस

पेट्रोल-डीजल से राजस्व की पूर्ति करेगी सरकार, ख़ज़ाने में जमा होंगे इतने करोड़

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -