ISIS के चंगुल से छूटे लड़के ने बताया कुछ ऐसा आप जान कर रह जाएंगे हैरान

ISIS के चंगुल से छूटे लड़के ने बताया कुछ ऐसा आप जान कर रह जाएंगे हैरान

सीरिया : आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (IS) के चंगुल से छूटकर आए 14 साल के लड़के ने बताया है कि आतंकी उसे हत्यारा बनने की ट्रेनिंग देते थे. यजीदी लड़के रागब अहमद ने कहा कि ''वे कहते थे कि सिर को पकड़ो, उसे पीछे करो और फिर गर्दन से काट दो.'' अहमद को IS के प्रोपेगैंडा वीडियो में कई बार दिखाया गया है, इन वीडियो में उसे बंधकों का सिर काटते हुए दिखाया गया है. हालांकि अहमद अपनी फैमिली के साथ बड़ी मुश्किल से भागने में कामयाब रहा. अहमद ने बताया कि उसके साथ 5 और लड़कों को भी हत्यारा बनने की ट्रेनिंग दी जाती थी.

बता दें कि एक वीडियो में अहमद और उसके साथी हथियारों को राजधानी रक्का में हथियारों से लैस होकर मिलिट्री एक्सरजाइज करते हुए दिखाया गया था. अहमद ने बताया कि वहाँ से भागने में एक स्मगलर ने उनकी मदद की. लड़ाकों से चुरा कर लाए गए मेमोरी स्टिक के जरिए अहमद ने जिहादियों की फोटोज सामने लाई है. इसमें उस आदमी की भी फोटो है, जिसने भागने में उसकी मदद की. अहमद को उसके माता-पिता, छोटे भाई गयात और बहन के साथ आतंकियों ने पिछले साल अगस्त में पकड़ लिया गया था. उन्हें नॉर्दन इराक से अगवा किया गया था. हालांकि अहमद के पिता का अभी तक कुछ भी पता नहीं चल सका था.