इस गांव में नहीं है एक भी चाय की दुकान, दूध के लिए भी तरस जाते है लोग

इस गांव में नहीं है एक भी चाय की दुकान, दूध के लिए भी तरस जाते है लोग

चाय किसे नहीं पसंद होती है. आज के समय में बहुत कम ऐसे लोग होते है जो चाय से नफरत करते हैं. चाय का नाम सुनते ही लोगों का मूड ठीक हो जाता है लेकिन हम आपको आज एक ऐसी जगह के बारे में बता रहे हैं जहां पर चाय की एक भी दूकान नहीं है. जी हाँ.... सुनकर भले ही आप चौंक गए हो लेकिन ये सच है. ये गांव उत्तरप्रदेश के आगरा से पास है जो इस समय काफी ज्यादा चर्चाओं में बना हुआ है. इस चर्चा की वजह है इस गांव में एक भी चाय की दुकान ना होना.

इस गांव में एक भी चाय की दुकान ना होना इस गांव की खासियत है. इस गांव का नाम है ‘कुआं खेड़ा’ जो आगरा से 2 किमी की दूर पर स्थित है. सिर्फ चाय ही नहीं बल्कि इस गांव में तो दूध बेचना भी पाप माना जाता है. दरअसल इस गांव के लोगों का ऐसा मानना है है कि यदि यहाँ किसी ने भी दूध को पैसा लेकर किसी को बेचा तो गांव पर मुसीबत आ जाएगी. इसी के चलते पिछले कई सालों से इस गांव में दूध नहीं बेचा जाता है. इस गांव में लोगों के घर में गाय-भैस तो आपको बंधी हुईं मिल जाएंगे लेकिन ये लोग इनके दूध का प्रयोग अपने ही घर में करते हैं किसी और को नहीं बेचते.

इस गांव के प्रधान का ऐसा मानना है कि 'हमारे गांव में यह प्रथा दशकों से चल रही है. यदि कोई इस मान्यता को तोड़ता है तो उसके साथ अनहोनी घट जाती है.' गांव में किसी को भी पैसे के बदले दूध नहीं दिया जाता है बल्कि उसे बिना पैसे दिए ऐसे ही अन्य व्यक्ति को दें सकते हैं. दूध के चलते ही इस गांव में एक भी चाय की दुकान भी नहीं है.

Video : तैरते शख्स पर इस मछली ने प्राइवेट पार्ट पर किया हमला

देश का एकमात्र मंदिर जहाँ इंसान रूपी चेहरे में विराजित हैं श्री गणेश

पढाई के लिए गई विदेश छात्रा इतनी अमीर कि इतने नौकर भी गए साथ

?