एजेंसियां हुई अलर्ट, आतंकियों के निशाने पर है दिल्ली

नई दिल्ली: इसी साल पानीपत में दो खाली ट्रेनों में हुए धमाके एक जैसे पाए गए हैं. और कुछ ही दिनों पहले हरियाणा में एक रोडवेज बस में हुए ब्लास्ट भी इसी तरह का था. जांच एजेंसियों के अनुसार इन धमाकों में किसी एक ही ग्रुप या शख्स का हाथ है. एजेंसियों के अनुसार ये ग्रुप किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की प्लानिंग में हो सकता है. ये तीन धमाके ग्रुप/शख्स ने एक ट्रायल रन के तौर पर किए हैं. इन धमाकों को आतंकी घटना माना गया है। 

जानकारी के मुताबिक हरियाणा गवर्नमेंट बस में ब्लास्ट की जांच के लिए SIT बनाई है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक जांच एजेंसियों का यह भी मानना है कि ग्रुप / शख्स का असली टारगेट हरियाणा नहीं है. वह ग्रुप या शख्स जल्द ही अगला ब्लास्ट दिल्ली में कर सकता है. बस में ब्लास्ट हुए बम को एक पीले रंग के पॉलीबैग में रखा गया था. जांच एजेंसियों को कन्फ्यूज करने के लिए बैग में थाई लैंग्वेज में लिखा एक मैसेज भी मिला है. सभी ब्लास्ट में 12 वॉल्ट की बैटरी इस्तेमाल की गई है|

ब्लास्ट्स करने वाला ग्रुप या शख्स दिल्ली-हरियाणा के आसपास का हो सकता है, क्योंकि जिन ट्रेनों और बस को निशाना बनाया गया है. वे दिल्ली के आसपास और हरियाणा से होकर आ रही थीं. इन कारणों से शक हुआ. कुरक्षेत्र जिले में पीपली के पास हरियाणा रोडवेज की बस में धमाका हुआ था. उसके बाद 13 मई को दिल्ली से पानीपत जा रही एक ईएमयू ट्रेन में ब्लास्ट हुआ था.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -