पाकिस्तान में हिंदुओं पर अत्याचार पर बढ़ा विरोध

Aug 14 2020 06:38 PM
पाकिस्तान में हिंदुओं पर अत्याचार पर बढ़ा विरोध

पाक में अल्‍पसंख्‍यकों के साथ अत्‍याचार बढ़ता जा रहा है. जिसके बाद विश्वस्तर पर आवाजें बुलंद हो रही हैं. काठमांडू में पाक दूतावास के करीब चक्रपाठ चौक पर लोगों ने पाकिस्तान में हिंदुओं पर हो रहे अत्याचार को लेकर विरोध प्रदर्शन किया. दूसरी ओर सिंध में भी लोगों ने पाकिस्‍तानी सेना और खुफिया एजेंसियों के विरूध्द आवाजें बुलंद कीं. मानवाधिकार कार्यकर्ताओं और उन लोगों के परिजनों ने जोरदार प्रदर्शन किया जो लापता हैं. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कराची प्रेस क्‍लब के बाहर प्रदर्शन कर रहे लोगों पर काबू पाने के लिए पुलिस ने बल प्रयोग किया.

ट्रम्प सरकार का बड़ा ऐलान- कोरोना पीड़ित अमेरिकियों को मुफ्त लगाई जाएगी वैक्सीन

रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस के साथ मुठभेड़ में पांच लोग घायल बताए जाते हैं. 'द सिंधी मिसिंग पर्सन्स' एवं अन्य मानवाधिकार संगठनों ने सिंध में लापता व्यक्तियों के फैमिली के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए एक विरोध रैली प्रायोजित की गई. प्रदर्शनकारियों ने 'ये जो दहशतगर्दी है, इसके पीछे वर्दी है' जैसे नारे लगाए..! महिलाओं और बच्चों समेत लापता लोगों के परिवार के अन्‍य सदस्यों को रोते और पुलिस के साथ बहस करते हुए देखा गया. प्रदर्शनकारी पाकिस्‍तानी खुफिया एजेंसियों द्वारा कथित तौर पर अगवा किए गए लोगों की तुरंत रिहाई की मांग कर रहे थे.

राफेल डील पर बौखलाया पाक, कहा- 5 विमान खरीदो या 500, कोई फर्क नहीं पड़ता

एक पीड़ित फैमिली के मेंबर्स सोरत लोहार ने बताया कि सुरक्षा एजेंसियों ने अशगर ब्रोही (Ashgar Brohi) के निवास में घुसकर उसके और फैमिली के अन्य मेंबर्स पर अत्याचार किए. एजेंसी के लोग उसे उठाकर ले जाने से पहले निवास को नष्ट कर दिया. सुहनी जॉयो के पति सारंग जॉयो को एजेंसी के जवानों ने अगवा कर लिया था. सुहनी कहती हैं कि हमें उनसे मिलने की अनुमति दी जानी चाहिए. मेरे पति यदि दोषी हैं तो उनको कोर्ट में पेश किया जाना चाहिए. पाक खुफिया एजेंसी के लोगों ने आतंकियों की तरह हमारे निवास में घुसकर सबकुछ नष्ट कर दिया. हम जानते हैं कि असल में पाकिस्‍तानी एजेंसियां ही आतंकवादी है. 

क्या टिक टॉक की खरीदी में ट्रंप बन सकते है बाधा ?

नेपाल : सिंधुपालचोक में खिसकी जमीन, कई लोग हुए लापता

ब्राजील में कोरोना मचा रहा हाहाकार, बढ़ा संक्रमण का आंकड़ा