सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद किसानों ने खोला रास्ता, टिकैत बोले- हमने कभी ब्लॉक ही नहीं किया

नई दिल्ली: केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे कृषकों ने गाजीपुर बार्डर राष्ट्रीय राजमार्ग 24 पर रास्ता खोल दिया है. सूत्रों के हवाले से प्राप्त जानकारी के अनुसार, राकेश टिकैत समेत किसानों ने गाजीपुर बॉर्डर पर फ्लाईओवर के नीचे दिल्ली जाने वाली सर्विस लेन पर से जाम हटा दिया है. बता दें कि कृषकों ने सबसे पहले इसी रास्ते को रोका था. रास्ता खोलने का फैसला मामला शीर्ष अदालत में जाने के बाद लिया गया है.

दिल्ली की सरहदों पर प्रदर्शन कर रहे किसानों के सड़कें बंद करने के मामले में सर्वोच्च न्यायालय ने भी नाराजगी व्यक्त की है. अदालत ने किसानों से कहा कि वह सड़क से हटने के बारे में अपना जवाब दायर करें. इसके लिए किसानों को अदालत ने मोहलत भी दी है. मामले की सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति एसके कॉल ने कहा कि सड़कें साफ होनी चाहिएं. हम बार-बार कानून तय नहीं कर सकते हैं. उन्होंने किसानों से कहा कि उन्हें आंदोलन करने का अधिकार है, मगर आप सड़क जाम नहीं कर सकते.

बता दें कि किसानों ने नोएडा को दिल्ली से जोड़ने वाली सड़कों को ब्लॉक कर रखा है. जिसके चलते लोगों को काफी समस्या हो रही है. इसी परेशानी के मद्देनज़र याचिकाकर्ता ने अदालत में याचिका दायर की थी. उनकी मांग है कि किसानों को सड़कों पर से हटाया जाए. अब अदालत इस मामले में अगली सुनवाई 7 दिसंबर को करेगी. सुनवाई करते हुए शीर्ष अदालत ने कहा कि अब कुछ निराकरण निकालना होगा. सड़कों को इस प्रकार बंद नहीं किया जा सकता. 

यूपी: छात्राओं के लिए कांग्रेस ने किया ये बड़ा ऐलान

अपना पहला स्वदेशी अंतरिक्ष प्रक्षेपण यान लॉन्च करने के लिए तैयार दक्षिण कोरिया

उत्तर कोरिया के साथ बातचीत के लिए तैयार है अमेरिका: जेन साकी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -