पति की मौत के बाद पहले बेटी को उतारा मौत के घाट, फिर बेटे का कर दिया ऐसा हाल

औरंगाबाद: महाराष्ट्र से एक चौंकाने वाली घटना सामने आ रही है यहाँ एड्स की वजह से पति की मौत हो गई तो कुछ दिन पश्चात् 17 वर्षीय बेटी को मार डाला। तीन महीने पश्चात् अब 15 वर्षीय बेटे को मारकर लाश को आंगन में गाड़ दिया। क़त्ल का खुलासा होने के पश्चात् भी उसके चेहरे पर दर्द या पछतावा नहीं। मीडिया को कहानी सुना रही है कि "स्कूल में जमा करने वाला पैसा लेकर बेटा गायब हो गया था, बाद में घर में मरा जैसा देखे।" औरंगाबाद के मदनपुर थाना इलाके के माया बिगहा गांव में रविवार प्रातः जब महिला के आंगन से उठती दुर्गंध पर पुलिस को खबर दी गई तथा खोदने पर 15 वर्षीय मारूतीनंदन कुमार की लाश नजर आई तो मामला खुला।

महिला कंचन के पति विनय सिंह की मौत कुछ महीने पूर्व एड्स से हो गई थी। महिला को एक बेटा और एक बेटी थी। आरोप पहले से था कि लगभग 3 महीना पहले महिला ने अपनी 17 वर्षीय बेटी पुनीता कुमारी का क़त्ल कर दिया। उस क़त्ल के पश्चात् भी वह बची हुई थी, जबकि महिला के ससुर राजेन्द्र सिंह खुद रिटायर्ड दारोगा हैं। वे मूल रूप से गया जिले के गुरूआ थाना के नगवांगढ़ पचरूखिया के रहने वाले हैं, मगर शिवगंज में मकान बनाकर रहते हैं। वहीं महिला भी रहती है। महिला कई दिनों से विद्यालय में जमा करने दिए पैसे लेकर बेटा के गायब होने की कहानी सुना रही थी तथा इधर दो दिन से उसकी आंगन से तेज बदबू आ रही थी तो गांव के लोगों ने भीषण दुर्गंध की खबर मदनपुर पुलिस को दी।

मदनपुर थानाध्यक्ष शशि कुमार राणा ने बताया कि शव को ऊपर से देख लिया गया है। अब पटना से आ रही FSL की टीम मजिस्ट्रेट की निगरानी में सत्यापन के लिए खुदाई कर शव को पूरी तरह निकालेगी। महिला कंचन देवी को गिरफ्त में लेकर पूछताछ की जा रही है। मारूतीनंदन एक निजी स्कूल में सातवीं कक्षा का विद्यार्थी था।

कांग्रेस का बड़ा ऐलान, 'भारत जोड़ों यात्रा' के बाद शुरू करेगी ये अभियान

एक्शन मूड में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज, 5 अधिकारी-कर्मचारियों को किया सस्पेंड

MCD Election Live: पोलिंग बूथ पर सिसोदिया की तस्वीर क्यों ? मतदान की रफ़्तार बेहद सुस्त

न्यूज ट्रैक वीडियो

Most Popular

- Sponsored Advert -