सपा के उपरांत कांग्रेस ने साधा EC पर निशाना, "बघेल बोले-निर्वाचन आयोग को अपनी भूमिका निष्पक्ष ..."

रायपुर​: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भूपेश बघेल ने नोएडा में चुनाव प्रचार के दौरान कोरोना वायरस संबंधी नियमों के उल्लंघन के इल्जाम में अपने खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने के उपरांत सोमवार को बोला है कि निर्वाचन आयोग को अपनी भूमिका निष्पक्ष  रखना जरुरी है। बघेल ने बोला है कि आयोग को बताना चाहिए कि मौजूदा स्थिति में कैसे प्रचार करना जरुरी है। जिसके पूर्व अखिलेश यादव ने सपा नेताओं पर केस के उपरांत निर्वाचन आयोग के निरंतर पर प्रश्न उठाते हुए बीजेपी का एक वीडियो ट्वीट कर चुके है।

बघेल ने यहां संवाददाताओं से बोला है, ''मेरे साथ कई सुरक्षाकर्मी हमेशा ही रहते है। कई पत्रकार भी थे। लोग आ रहे हैं, मिल रहे हैं। आखिर चुनाव प्रचार कैसे होने वाले है। निर्वाचन आयोग को कहना चाहिए कि कैसे प्रचार करना है।'' उन्होंने बोला है, ''मेरे के विरुद्ध कार्रवाई क्यों हुई? अमरोहा में बीजेपी के प्रत्याशी और मंत्री के विरुद्ध कार्रवाई क्यों नहीं हुई, जबकि वे घर-घर जाकर प्रचार करने में लगे हुए है। निर्वाचन आयोग को अपनी भूमिका निष्पक्ष रखना जरुरी है। अभी शुरुआत में निष्पक्षता अब तक दिखाई नहीं दे रही है तो आखिर में क्या उम्मीद करें?''

यूपी  के विधानसभा चुनाव में नोएडा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी के प्रचार के लिए रविवार को नोएडा आए बघेल के विरुद्ध कोरोना वायरस संबंधी रूल्स के उल्लंघन के इल्जाम में केस दर्ज करवाया गया था। बघेल रविवार को कुछ समर्थकों के साथ नोएडा में कांग्रेस की प्रत्याशी पंखुड़ी पाठक के समर्थन में घर-घर प्रचार के लिए गए थे, जब नियमों का कथित उल्लंघन हुआ। महामारी कानून के अंतर्गत दर्ज केस में आरोपियों में छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ कांग्रेस नेता के अतिरिक्त 'अन्य' के नाम भी हैं।

तौकीर रजा का बड़ा बयान, कहा- "भाजपा से ज्यादा नुकसानदेह है सपा..."

कोरोना के कारण भारत में बढ़ी गरीबी! रिपोर्ट में हुआ हैरतअंगेज खुलासा

यमन के हूती विद्रोहियों ने एक बार फिर बनाया UAE को अपना निशाना, हर दिया बड़ा हमला

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -