सत्‍यव्रत चतुर्वेदी के बाद उनके बेटे नितिन को भी किया कांग्रेस पार्टी से बाहर

सत्‍यव्रत चतुर्वेदी के बाद उनके बेटे नितिन को भी किया कांग्रेस पार्टी से बाहर

भोपाल: देश में राजनीति इस समय अपने चरम पर पहुंच गई है। भाजपा और कांग्रेस में हो रहे नेताओं के अंदर बाहर से पार्टियों की राजनीति समझ से परे नजर आ रही है। जानकारी के अनुसार बता दें कि मध्‍यप्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने बागियों को पार्टी से बाहर का रास्‍ता दिखाना शुरू कर दिया है। वहीं कांग्रेस ने पार्टी के दिग्गज नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी के बाद अब गुरुवार को उनके बेटे नितिन चतुर्वेदी को भी पार्टी से निष्कासित कर दिया है। उनके साथ 13 अन्य बागी नेताओं को भी 6 साल के लिए बाहर किया गया है। 

हर बार चुनाव में राम के नाम का कटोरा लेकर वोट मांगने निकल पड़ती है भाजपा- राज बब्बर

वहीं बता दें कि नितिन कांग्रेस से बागी होकर राजनगर सीट से समाजवादी पार्टी से चुनाव लड़ रहे हैं। नितिन के बागी होते ही उनके खिलाफ पार्टी ने निष्‍कासन की कार्रवाई की है। वहीं ऐसे में अब दोनों पिता-पुत्र कांग्रेस से बाहर हो चुके हैं। इसके अलावा विदित हो कि इससे पहले कांग्रेस ने वरिष्‍ठ नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी के खिलाफ कार्रवाई कर उन्हें पार्टी से निष्कासित किया था और उनके बेटे नितिन चतुर्वेदी ने बागी होकर पिछले हफ्ते छतरपुर जिले की राजनगर सीट से समाजवादी पार्टी के टिकट पर नामांकन पत्र दाखिल किया था।

मध्यप्रदेश चुनाव: चुनावी माह में रिकार्ड तोड़ बिक रही शराब, हर दिन औसतन 64 हजार लीटर खपत बढ़ी

गौरतलब है कि नितिन चतुर्वेदी कांग्रेस से बगावत कर समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। उन्हें छतरपुर की राजनगर सीट से सपा ने टिकट दिया है, नितिन के बागी होते ही पार्टी ने गुरुवार को उन्‍हें बाहर का रास्‍ता दिखा दिया। इसके साथ ही 13 अन्य बागी नेताओं को भी 6 साल के लिए निष्‍कासित कर दिया है। बता दें कि पार्टी ने जिन अन्य लोगों को बाहर निकाला है उनमें राजेश महतो, अनवरी खातून, लाला जयप्रकाश द्विवेदी, प्रकाश पांडेय, पीयूष दीक्षित, अंजना चतुर्वेदी, जगदीश शुक्ला, मनोज भटनागर, संतोष लटोरिया, क्षितिज शुक्ला, विशाल शर्मा, मोहन सिंह बुंदेला शामिल हैं।


खबरें और भी 

चुनाव आयोग का बड़ा फैसला, अगर अधिक लोगों ने दबाया NOTA तो प्रत्याशी हो जाएगा अयोग्य

राजस्थान चुनाव 2018: रितेश शर्मा कांग्रेस में शामिल, वसुंधरा के ससुराल धौलपुर में भाजपा हुई अचंभित

छत्तीसगढ़ चुनाव: चरणदास महंत का दावा, भाजपा से नाराज़ हैं राज्य के लोग पूर्ण बहुमत के साथ आएगी कांग्रेस