हरीश रावत के बाद अब मनीष तिवारी ने भी कांग्रेस के खिलाफ खोला मोर्चा, क्या छोड़ेंगे पार्टी ?

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत द्वारा बुधवार को पार्टी पर असहयोग का आरोप लगाने के बाद अब वरिष्ठ नेता मनीष तिवारी ने भी पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. उन्होंने ट्विटर पर तंज कसते हुए लिखा है कि ‘पहले असम, फिर पंजाब और अब उत्तराखंड… भोग पूरा ही पाओगे, कसर न रह जावे कोई’. बता दें कि इससे पहले भी मनीष तिवारी नवजोत सिंह सिद्धू को लेकर पंजाब यूनिट में विवाद और कन्हैया कुमार के पार्टी में शामिल होने पर कांग्रेस हाईकमान पर निशाना साध चुके हैं.

मनीष तिवारी कांग्रेस के उस समूह (जी-23) के नेताओं में भी शामिल हैं, जिन्होंने गत वर्ष संगठन में परिवर्तन की मांग करते हुए पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी थी. इस पत्र के बाद पार्टी में मतभेद खुलकर सामने आ गए थे. इससे पहले कांग्रेस के पूर्व सीनियर नेता और पंजाब के पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह ने हरीश रावत को टैग करते हुए ट्वीट में लिखा था कि, 'आप जो बोते हैं, वही काटते हैं. भविष्य की योजनाओं (अगर कोई हो तो) के लिये शुभकामनाएं हरीश रावत जी.'

दरअसल, कैप्टन अमरिंदर सिंह को CM पद से हटाए जाने के दौरान हरीश रावत पंजाब कांग्रेस के प्रभारी थे. हरीश रावत ने अगले साल की शुरूआत में प्रस्तावित उत्तराखंड विधानसभा चुनाव से पहले बुधवार को यह कहते हुए सियासी गलियारों में हडकंप मचा दिया कि पार्टी संगठन उनके साथ असहयोग कर रहा है और उनका मन सब कुछ छोड़ने के लिए कर रहा है.

कमलनाथ के प्रियंका गाँधी को मध्यप्रदेश बुलाने पर बोले नरोत्तम मिश्रा- राहुल गांधी जी से दस दिन में...

राजनीति अपनी जगह, शिष्टाचार अपनी जगह.., मोदी-योगी ने फिर दिखा दिया

समय से पहले संसद सत्र समाप्त होने पर आई जया बच्चन की प्रतिक्रिया, कही ये बात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -