दिल्ली फिर शर्मसार: चलती कार में गैंगरेप कर केजरीवाल के घर के पास फेंका

May 04 2015 07:08 PM
दिल्ली फिर शर्मसार: चलती कार में गैंगरेप कर केजरीवाल के घर के पास फेंका

नई दिल्ली : दिल्ली के मुख्यमंत्री बनने से पहले केजरीवाल ने जिस तरह से चुनावों के वक्त सारी दिल्ली को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाने की बात कही गई थी उसका कुछ भी असर नजर नहीं आ रहा। देश की राजधानी दिल्ली में महिलाओं के प्रति अपराध रुकने का नाम ही नहीं ले रहे है, राजधानी दिल्ली का कोई भी ऐसा कोना बाकी नहीं की महिलाओं के लिए सुरक्षित नजर आए। एक बार फिर दिल्ली के सिविल लाइंस इलाके में एक युवती के साथ गैंग रेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है। 18 साल की युवती से चलती कार में गैंगरेप किया गया। विरोध करने पर उसे बुरी तरह पीटा गया। उसके शरीर पर खरोंच और चोट के निशान हैं । बताया जा रहा है कि दो लोगों पर गैंगरेप का आरोप है।

खबर मिली है कि गैंगरेप रेप करने के बाद आरोपियों ने उसे देर रात विधानसभा से चंद कदमों की दूरी पर चलती कार से सडक़ पर फेंक दिया था । आपको बता दे कि यहाँ से कुछ ही दूर पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का आवास है। किसी राहगीर की सूचना पर पीसीआर वहां पहुंची। गैंगरेप की खबर से पुलिस में हडक़ंप मच गया। रात में पुलिस के कई बड़े अधिकारी वहां पहुंचे, पहले नजदीक सुश्रुत ट्रामा सेंटर में करीब 11:40 पर भर्ती कराया गया, जहां नाजुक हालत को देखते हुए उसे करीब 1:20 पर एलएनजेपी अस्पताल रेफर कर दिया गया। सुबह तक पुलिस अफसर इस मामले में कुछ बोलने को तैयार नहीं थे। नॉर्थ डिस्ट्रिक्ट के एक सीनियर पुलिस अफसर ने हालांकि वारदात की पुष्टि की, लेकिन इतना ही कहा कि अभी सभी पहलुओं से जांच की जा रही है। इस मामले में सूत्रों का कहना है कि युवती सिविल लाइंस में विकास भवन के पास मिली। युवती इस कदर डरी सहमी हुई थी कि वह बयान देने की हालत में नहीं थी।