दिल्ली के बाद अब यूपी में शुरू हुआ काली पोस्टर को लेकर विवाद

डॉक्यूमेंट्री मूवी काली के पोस्टर पर विवाद और भी ज्यादा गर्माता ही चला जा रहा है।  मूवी काली अब नई मुसीबतों में फंसती हुई दिखाई दे रही है। फिल्ममेकर लीना मणिमेकलई की डॉक्यूमेंट्री मूवी के पोस्टर में मां काली को सिगरेट पीते बताया गया है। जिसके  साथ ही उनके एक हाथ में LGBTQ समुदाय का सतरंगा झंडा भी दर्शाया गया है। विवादित पोस्टर पर बड़ा बवाल खड़ा हो गया है और अब मामला पुलिस तक पहुंच चुका है।

पोस्टर विवाद पर दिल्ली पुलिस ने दर्ज की FIR:  खबरोना का कहना है कि दिल्ली पुलिस की IFSO यूनिट ने मां काली मूवी के विवादित पोस्टर पर एक्शन लिया है। दिल्ली पुलिस ने सेक्शन 153A और 295A के तहत FIR दर्ज कर दिया गया है। दरअसल, दिल्ली पुलिस को काली मां वाले पोस्टर वाले विवाद पर दो शिकायत भी दर्ज करवाई गई थी। एक शिकायत नई दिल्ली डिस्ट्रिक्ट से और दूसरी IFSO से, जो साइबर क्राइम का काम देखती है। 

IFSO यूनिट ने काली फिल्म की डायरेक्टर लीना मनिमेकलाई के विरुद्ध IPC 153A यानी धर्म जाति के आधार पर भड़काना और IPC 295A यानी कोई किसी वर्ग, धर्म की भावनाओं को हानि पहुंचाने के आरोप में केस भी दायर किया गया है। वहीं, नई दिल्ली डिस्ट्रिक्ट वाली शिकायत पर नई दिल्ली पुलिस अभी जांच कर रही है। जरूरत पढ़ने पर ईमेल या नोटिस के मध्य डायरेक्टर से सम्पर्क करने की कोशिश करके पूछताछ करने वाली है।

यूपी में भी केस दर्ज: हिंदू देवताओं के अपमानजनक चित्रण के लिए मूवी 'काली' की निर्माता लीना मणिमेकलाई के विरुद्ध यूपी पुलिस ने भी FIR दर्ज कर ली है। FIR में हिंदू देवी के बारे में अपमानजनक चित्रण के माध्यम से आपराधिक साजिश, धार्मिक भावनाओं को हानि करने, शांति भंग करने की मंशा सहित कई आरोप फिल्ममेकर लीना मनिमेकलाई के विरुद्ध लगाए जा चुके हैं। 

माँ काली के आपत्तिजनक पोस्टर पर अब भी जारी है विवाद, कनाडा तक पहुंच गई बात

R माधवन की फिल्म के मुरीद हुए रजनीकांत, बोले- 'हृदय से धन्यवाद...'

'माँ काली' के इस पोस्टर को देख लोगों में बढ़ा आक्रोश, सोशल मीडिया पर उठी इस फिल्म मेकर को गिरफ्तार करने की मांग

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -