स्टाफ की ट्रेनिंग पूरी होने के बाद ही मोगा में चलेंगी आॅर्बिट की बसें

May 03 2015 11:26 AM
स्टाफ की ट्रेनिंग पूरी होने के बाद ही मोगा में चलेंगी आॅर्बिट की बसें

मोगा : पंजाब के मोगा में बीते समय एक महिला और उसकी लड़की के साथ हुई छेड़छाड़ की वारदात के बाद आखिरकार पंजाब की बादल सरकार को इस मामले में निर्णय लेना ही पड़ा है। बादल सरकार ने अपनी बस कंपनी आॅर्बिट एविएशन प्रायवेट लिमिटेड के स्टाफ की ट्रेनिंग पूरी होने तक कंपनी की बसों को सड़क से हटाने के निर्देश दिए गए हैं।

दूसरी ओर बस स्टाफ को यात्रियों से व्यवहार करने की ट्रेनिंग भी दी गई है। मिली जानकारी के अनुसार मोगा बस कांड को लेकर राजनीति गरमा गई है। जहां कांग्रेस द्वारा पंजाब की बादल सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया गया है वहीं आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान ने भी बादल सरकार के खिलाफ अपने तेवर तेज कर दिए थे वहीं आज आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास मोगा के पीडि़त परिवारों से आज मिलेंगे।

प्रकाश सिंह बादल परिवार के विरूद्ध विरोधी राजनीतिक दल एकजुट हो गए हैं, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी सहित विभिन्न दलों के 9 सदस्य व परिवावर के सदस्यों ने मिलकर 10 लोगों की इंसाफ कमेटी तैयार की है। इस कमेटी ने घटना का जमकर विरोध किया। मामले को लेकर विरोधियों द्वारा मोगा बंद की घोषणा की गई। मोगा बस कांड पर आर्बिट बस कंपनी के विरूद्ध किसी तरह का प्रकरण दर्ज नहीं करने की बात कही गई है।

यही नहीं मामले को लेकर कहा गया है कि कंपनी संचालकों को घटना की जानकारी नहीं थी। मामले में कहा जा रहा है कि पीडि़त परिवावर को कई तरह की धमकियां मिल रही हैं। दूसरी ओर मोगा बस कांड को लेकर कांग्रेस ने पंजाब में बादल सरकार के विरूद्ध जमकर प्रदर्शन किया। कांग्रेस ने राज्य में विभिन्न क्षेत्रों में रेल यातायात को बाधित कर दिया और बादल परिवार पर प्रकरण दर्ज करने की मांग की।