कोरोना संकट के बीच देश में 'अफ्रीकन स्वाइन फ्लू' का अटैक, हुई 250 मौतें

गुवाहाटी: अभी देश भर के डॉक्टर्स और साइंटिस्ट्स कोरोना वायरस संक्रमण के कहर से ही लोगों को बचाने का उपाय ढूंढ रहे हैं और देश के सामने एक नई मुसीबत खड़ी हो गई है. बताया जा रहा है कि अब देश में स्वाइन फ्लू के मामले सामने आने लगे हैं. असम सरकार ने रविवार को बताया कि प्रदेश में अफ्रीकी स्वाइन फ्लू का पहला मामला दर्ज किया गया है और इससे 306 गांवों में 2,500 से अधिक सूअर मारे जा चुके हैं.

असम के पशुपालन और पशु चिकित्सा मंत्री अतुल बोरा ने एक प्रेस वार्ता में कहा कि राज्य सरकार केंद्र से स्वीकृति मिलने के बाद भी तुरंत सूअरों को मारने की जगह इस घातक संक्रामक बीमारी को फैलने से रोकने के लिए कोई अन्य रास्ता अपनाएगी. बोरा ने कहा है कि, ‘राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान (NIHSAD) भोपाल ने पुष्टि की है कि यह अफ्रीकी स्वाइन फ्लू (ASF) है.

उन्होंने कहा ki केंद्र सरकार ने हमें बताया है कि यह देश में इस बीमारी का पहला केस है.’ उन्होंने आगे बताया कि इस बीमारी का कोरोना वायरस संक्रमण से कोई लेना-देना नहीं है. विभाग द्वारा 2019 की गणना के मुताबिक, सुअरों की कुल संख्या लगभग 21 लाख थी लेकिन अब यह बढ़कर तक़रीबन 30 लाख हो गई है.

वारेन बफेट का बड़ा फैसला, एयरलाइन्स कंपनियों के अपने सारे शेयर बेचे

इंटरनेशनल फायर फाइटर डे: खुद झुलसकर भी दूसरों को बचाने वाले 'योद्धाओं' के सम्मान का दिन

बैंक ऑफ बड़ौदा : एनपीए का आंकड़ा जानकर हो जाएंगे हैरान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -