नमाज़ पढ़ रहे मुस्लिमों के बीच जाकर फट गया इस्लामिक स्टेट का आतंकी, 100 से ज्यादा की मौत

काबुल: उत्तरी अफगानिस्तान में शिया मुस्लिम नमाजियों से भरी एक मस्जिद में शुक्रवार को हुए धामके में 100 से अधिक लोगों की मौत हुई हैं। एक अधिकारी ने इस सम्बन्ध में जानकारी दी है। इस बीच, आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट (IS) ने मस्जिद में हुए बम ब्लास्ट की जिम्मेदारी लेते हुए कहा है कि उसके आत्मघाती हमलावर ने घटना अंजाम दिया।

IS से जुड़ी अमाक समाचार एजेंसी ने कुंदुज प्रांत में मस्जिद में दोपहर की नमाज के दौरान हुए विस्फोट की वारदात के कुछ घंटे बाद आतंकी संघठन के दावे के बारे में जानकारी दी। अपने दावे में IS ने फिदायीन हमलावर की पहचान एक उइगर मुस्लिम के रूप में की और कहा कि हमले में शियाओं और तालिबान दोनों को निशाना बनाया गया जोकि चीन से उइगरों की मांगों को पूरा करने में रोड़ा बन रहे हैं। तालिबान के प्रवक्ता बिलाल करीमी ने कहा कि इस मामले की तफ्तीश जारी है। 

बता दें कि, इस्लामिक स्टेट समूह के आतंकियों का अफगानिस्तान के शिया मुस्लिमों पर हमला करने का पुराना इतिहास रहा है। शुक्रवार को जिन लोगों को टार्गेट किया गया, वे हजारा समुदाय से हैं, जो सुन्नी बहुल देश में काफी समय से भेदभाव का शिकार बनते रहे हैं। यह हमला अमेरिका और NATO सैनिकों की अगस्त के अंत में अफगानिस्तान से वापसी और देश पर तालिबान के कब्जे के बाद एक बड़ा हमला है।

अमेरिकी सीनेट ने डिफ़ॉल्ट को टालने के लिए ऋण सीमा में अल्पकालिक वृद्धि को किया पारित

9वीं मंजिल से कूद गया शख्स, नीचे खड़ी BMW की वजह से बच गई जान

OMG: 18 करोड़ की सिर्फ एक डिश, ऐसा क्या है इसमें ख़ास ?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -