सत्ता के लिए लड़ रहे तालिबान और हक्कानी नेटवर्क..., अखुंदजादा का क़त्ल, कैद में उप-प्रधानमंत्री मुल्ला बरदार

काबुल: आतंकी संगठन तालिबान के अंदर जारी सत्ता संघर्ष के बीच हैरान करने वाली रिपोर्ट सामने आई है। इस रिपोर्ट में दावा किया गया है कि हक्कानी नेटवर्क और तालिबान के बीच हुए खूनी संघर्ष में सर्वोच्च नेता हिबतुल्लाह अखुंदजादा कि हत्या कर दो गई है। वहीं उप प्रधानमंत्री मुल्ला बरादर को बंधक बना लिया गया है। 

यह दावा ब्रिटेन की एक मैगजीन ने किया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि सत्ता के लिए हुए खूनी संघर्ष में सबसे अधिक नुकसान बरादर खेमे को ही हुआ है। बता दें कि, अफगानिस्तान में सरकार गठन के साथ ही तालिबान में भारी संघर्ष सामने आया था। बरादर गुट व हक्कानी नेटवर्क सत्ता में हिस्सेदारी को लेकर आपस में भिड़ गए थे। मैगजीन ने दावा किया है कि सितंबर में हक्कानी नेटवर्क और तालिबान में सरकार गठन को लेकर मीटिंग हुई थी। इस बैठक में दोनों गुटों के बीच तीखी कहासुनी हो गई। इसी दौरान हक्कानी नेटवर्क का नेता खलील-उल रहमान हक्कानी मुल्ला बरादर को घूंसे मारना शुरू कर दिए। इसके बाद दोनों गुटों के बीच जमकर लात-घूंसे चले और बरादर को गोली लगने की खबरें सामने आईं। 

इस संघर्ष के बाद बरदार कई दिनों तक किसी के सामने नहीं आया। कयास लगने लगे कि गोली लगने से बरादर मर गया है। इसी के बाद बरादर का एक वीडियो जारी हुआ, जिसमें उसने खुद को स्वस्थ बताया। मैगजीन का दावा है कि उस संघर्ष के बाद हक्कानी नेटवर्क ने किसी अज्ञात स्थान पर बरादर को बंधक बना रखा है और उससे वीडियो भी जबरदस्ती बनवाया गया था। 

पति संग गोवा में इंजॉय कर रहीं हैं समीरा रेड्डी, मोनोकिनी में आईं नजर

पाकिस्तान कबायली अदालत में गोलीबारी का शिकार हुए लोग, जिसमे हुई 9 की मौत

भारत के 3 दिवसीय दौरे पर पहुंचे सऊदी अरब के विदेश मंत्री, पीएम मोदी से की मुलाकात

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -