आदित्य विक्रम बिड़ला के जन्मदिन पर जानिए उनसे जुड़े कुछ अनसुन्ने किस्से

भारत के जाने माने मशहूर बिज़नेसमेन आदित्य विक्रम बिड़ला का आज यानी 14 नवंबर को जन्मदिन है। भारत के सबसे बड़े व्यापारिक परिवारों में से एक में जन्मे, उन्होंने अपने समूह के विविधीकरण को वस्त्र, पेट्रोकेमिकल तथा दूरसंचार में देखा। वह विदेश में विस्तार करने वाले पहले भारतीय कारोबारियों में से एक थे, जिन्होंने दक्षिण पूर्व एशिया, फिलीपींस तथा मिस्र में संयंत्र स्थापित किए। 1995 तक उनकी कुल संपत्ति 250 मिलियन पाउंड आंकी गई थी। 51 साल की उम्र में उनकी मृत्यु के बाद उनके युवा बेटे कुमार मंगलम बिड़ला ने अपने समूह के प्रभारी के तौर पर की।

बिड़ला का जन्म 14 नवंबर 1943 को कलकत्ता में कारोबारी बसंत कुमार तथा सरला बिरला के यहाँ हुआ था। उनके दादा घनश्याम दास बिड़ला महात्मा गांधी के एक सहयोगी थे तथा उन्होंने एल्यूमीनियम पूर्वेक्षण एवं राजदूत कार के निर्माता के तौर पर अपना भाग्य बनाया था। कलकत्ता के सेंट जेवियर्स कॉलेज में हिस्सा लेने के पश्चात्, उन्होंने मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में केमिकल इंजीनियरिंग में डिग्री प्राप्त की। उनकी शादी राजश्री से हुई थी तथा उनकी एक बेटी वासवदत्ता तथा एक बेटा कुमार मंगलम था,  जो अब आदित्य बिड़ला समूह के प्रमुख हैं। आदित्य विक्रम बिड़ला ने अपनी संस्कृत शिक्षा दिवंगत संस्कृत के विद्वान श्री दुर्गा प्रसाद शास्त्री से कोलकाता में हासिल की। उनकी शादी राजश्री बिड़ला से हुई थी।
 
1965 में भारत लौटने के पश्चात्, बिड़ला ने वस्त्रों में अपने दम पर प्रहार किया। कलकत्ता (कोलकाता) में उनकी ईस्टर्न स्पिनिंग मिल्स जल्दी ही कामयाब हो गई थी, जिसने समूह के डूबते रेयान तथा कपड़ा व्यवसाय को पटरी पर ला दिया था। तत्पश्चात, उन्हें तेल क्षेत्र में निगम के विस्तार का प्रभारी बनाया गया था। 1969 में, बिड़ला ने समूह की पहली विदेशी कंपनी इंडो-थाई सिंथेटिक्स कंपनी लिमिटेड की स्थापना की। 1973 में, उन्होंने पीटी एलिगेंट टेक्सटाइल्स की स्थापना की, जो स्पून यार्न का निर्माण करते थे। इसने इंडोनेशिया में समूह के पहले उद्यम को चिह्नित किया। 

पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर सुबह-सुबह मिली 'खुशखबरी', जानिए आज का भाव

इस साल देशभर में होंगी 25 लाख शादियां..., विशेषज्ञों ने जताया कोरोना फैलने का ख़तरा

आम आदमी पर महंगाई की मार जारी, आसमान पर पहुंचे सब्जियों के भाव

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -