अलिबाग इलाके का नाम लेकर फंसे आदित्य नारायण, राज ठाकरे की पार्टी ने दी धमकी

मुंबई: सोनी टीवी पर चल रहा शो ‘इंडियन आइडल 12’ इन दिनों विवादों में घिरा हुआ है। इस शो के होस्ट आदित्य नारायण कई बार विवादों में रहे हैं और अब एक बार फिर से उन्हें विवादों में देखा जा रहा है। जी दरअसल आदित्य नारायण ने शो के दौरान अलिबाग इलाके के नाम लिया था और उनके इस कारनामे के बाद अलिबाग के स्थानीय लोगों ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना पार्टी के सिनेमा विंग के अध्यक्ष अमेय खोपकर से इसकी शिकायत की। जी दरअसल इंडियन आइडल 12 शो में आदित्य नारायण ने बीते दिनों कहा था, ''राग पट्टी ठीक से दिया करो, हम अलिबाग से आए हैं क्या?''। उनके इस कथन का मतलब यह था कि सही राग में गाओ, हम मूर्ख हैं क्या? लेकिन उनके एक जगह का नाम लेकर उस विशेष क्षेत्र के सम्मान को धक्का लग गया।

ऐसे में इस घटना के बाद मनसे चित्रपट सेना के अध्यक्ष अमेय खोपकर ने फेसबुक लाइव कर और आदित्य नारायण के पिता मशहूर गायक उदित नारायण और सोनी टीवी के आयोजकों को फोन कर चेतावनी दी है कि ''अगर दोबारा ‘हम अलिबाग से आए हैं क्या?’ यह वाक्य कान में सुनाई दिया तो वे फेसबुक लाइव नहीं करेंगे सीधा कान के नीचे बजाएंगे।'' केवल यही नहीं बल्कि अमेय खोपकर ने आदित्य नारायण से माफी मांगने को भी कहा है। जी दरअसल महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के सिनेमा विंग के अध्यक्ष अमेय खोपकर ने अपने फेसबुक लाइव में आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि, ''हिंदी सीरियलों में ऐसा अक्सर कहा जाता है। उन्हें अलिबाग की संस्कृति मालूम नहीं है। उन्हें अलिबाग के लोगों के बारे में पता नहीं है। अगर अलिबाग के लोगों का दिमाग फिर गया तो हिंदी की एक भी चीज अलिबाग में चलने नहीं देंगे।''

केवल यही नहीं बल्कि उन्होंने आगे यह भी कहा कि, ''यह अलिबाग का अपमान है, जिसका हम निषेध करते हैं। अभी मेरी उदित नारायण से बात हुई। मैंने उन्हें अपने अंदाज में समझा दिया है। उन्हें यह भी बताया कि उनके बेटे आदित्य की अनेक शिकायतें पहले भी आई हैं। मेरी चैनल वालों से भी बात हुई। उन्हें कहा है कि अगले एपिसोड में उन्हें अलिबाग वालों से खुलकर माफी मांगनी होगी।''

इसके अलावा मनसे के सिनेमा विंग के अध्यक्ष अमेय खोपकर ने आगे कहा कि, ''हम ऐसे हिंदी कार्यक्रम वालों के लिए एक सूचना प्रकाशित करने वाले हैं। दोबारा हमारे कानों में ‘हम अलिबाग से आए हैं क्या’ वाक्य सुनाई नहीं देना चाहिए। अगर दोबारा ऐसा हुआ तो हम सूचना प्रकाशित नहीं करेंगे, फेसबुक लाइव नहीं करेंगे, सीधा कान के नीचे बजाएंगे। यह समय शूटिंग बंद करवाने का नहीं है। इसलिए फेसबुक लाइव करके समझा रहा हूं। लेकिन उन्हें माफी मांगनी ही पड़ेगी।''

पाकिस्तान ने आर्थिक समृद्धि के लिए सीपीईसी को दी सर्वोच्च प्राथमिकता: पीएम इमरान खान

74वीं विश्व स्वास्थ्य सभा ने कोरोना महामारी को समाप्त करने के लिए बनाई ये योजना

40 दिनों बाद पहली बार 2 लाख से नीचे आए नए कोरोना केस, 3511 की मौत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -