देश की वृद्धि दर 7.4 फीसदी रहने का अनुमान : ADB

वैश्विक अर्थव्यवस्था को लेकर लगातार नई-नई चुनौतिया सामने आ रही है. जिसको देखते हुए यह कहा जा रहा है कि आने वाले वित्त वर्ष के दौरान देश की वृद्धि दर 7.4 फीसदी पर पहुँच जाना है. जबकि इसके साथ ही यह भी बताया जा रहा है कि सुधारों को देखते हुए भारतीय अर्थव्यवस्था सबसे तेजी से आगे बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बनने वाली है.

बता दे कि एशियाई विकास बैंक के द्वारा सामने आई रिपोर्ट में यह देखने को मिला है कि बैंक के द्वारा वर्ष 2016-17 के लिए वृद्धि दर के अनुमान को 7.8 से घटाकर 7.4 फीसदी कर दिया गया है. मामले में एडीबी के प्रमुख प्रकाशन एशियाई विकास परिदृश्य के द्वारा उपभोक्ता मुद्रास्फीति में भी बढ़ोतरी का अनुमान पेश किया गया है. साथ ही यह भी बताया जा रहा है कि यह मुख्य रूप से सरकारी कर्मचारियों की वेतन में वृद्धि और वैश्विक तेल मूल्य में थोड़ी बढ़ोतरी की आशंका के मद्देनजर किया गया है.

मामले में ही एडीबी ने आगे बताते हुए यह भी कहा है कि वित्त वर्ष 2016 के दौरान भारतीय अर्थव्यवस्था में हलकी गिरतवा देखने को मिल सकती है. लेकिन वर्ष 2017 में यहाँ फिर से तेजी आ सकती है. बता दे कि एडीबी ने अनुमान पेश किया है कि वित्त वर्ष 2016 में भारत के सकल घरेलू उत्पाद की वृद्धि दर 7.4 फीसदी रहने वाली है जो कि वित्त वर्ष 2015 के लिए अनुमानित 7.6 फीसदी से भी कम है. जबकि साथ ही यह भी कहा है कि वित्त वर्ष 2017 के दौरान यह वृद्धि दर 7.8 फीसदी पर पहुँच जाना है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -