NDTV का मालिक बनने के बेहद करीब पहुंचे अडानी, प्रणय रॉय को चेयरमैन बने रहने का ऑफर

नई दिल्ली: भारत और एशिया के सबसे रईस कारोबारी गौतम अडानी (Gautam Adani) मीडिया कंपनी NDTV के मालिक बनने के बेहद नजदीक पहुंच चुके हैं। उनके पास फ़िलहाल NDTV की 29.18 फीसदी हिस्सेदारी है। अतिरिक्त 26 फीसद हिस्सेदारी हासिल करने के लिए अडानी समूह ने खुली पेशकश की है। अब गौतम अडानी ने कहा है कि NDTV को खरीदना बिजनस नहीं, बल्कि जिम्मेदारी (responsibility) है। 

बता दें कि, NDTV के प्रमोटर प्रणय रॉय और उनकी पत्नी राधिका रॉय हैं। उनके पास लगभग कंपनी की 32 फीसदी से ज्यादा हिस्सेदारी है। रॉय दंपति का कहना है कि अडानी ग्रुप ने NDTV को खरीदने के संबंध में उनसे कोई चर्चा नहीं की थी। विपक्ष ने आशंका जाहिर की है कि अडानी के मालिक बनने से NDTV की संपादकीय नीति प्रभावित होगी। गौतम अडानी ने कहा कि आजादी का मतलब है कि यदि सरकार ने कुछ गलत किया है तो आप कहेंगे की यह गलत है। इसके साथ ही यदि सरकार कुछ अच्छा कर रही है, तो आपके पास इसे अच्छा कहने की भी हिम्मत होना चाहिए। गौतम अडानी ने कहा है कि उन्होंने NDTV के मालिक और फाउंडर प्रणय रॉय को एक्विजशन पूरा होने पर चेयरमैन बने रहने की पेशकश की है। बता दें कि, NDTV की स्थापना 1988 में की गई थी। 2005 में प्राइवेट इक्विटी फर्म General Atlantic ने कंपनी में 8 फीसदी हिस्सेदारी 116 करोड़ रुपये में खरीदी थी।

अडानी के नेतृत्व वाले अडानी समूह ने अगस्त में विश्वप्रधान कमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड (VCPL) का अधिग्रहण करने का ऐलान किया था।VCPL ने NDTV के संस्थापकों को एक दशक पहले 400 करोड़ रुपये से ज्यादा राशि कर्ज के तौर पर दी थी। इस कर्ज के बदले में ऋणदाता को किसी भी वक़्त NDTV में 29.18 फीसद हिस्सेदारी लेने का प्रावधान रखा गया था। अब अडानी ग्रुप कंपनी में अतिरिक्त 26 फीसद हिस्सेदारी खरीदने के लिए खुली पेशकश लाया है।

1000-500 के नोट बंद होने के बाद आई एक और बड़ी अपडेट, बैंक का नोटिस जारी

नई सम्पत्तियाँ बेचने की तैयारी में मोदी सरकार, मंत्रालयों को दिया ये आदेश

दिसंबर में आधे दिन बंद रहेंगे बैंक ! हॉलिडे की लिस्ट देखकर ही घर से निकलें

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -