इस शख्स ने की थी कसाब को बचाने की मांग!

देश का सियासी पारा हर्ष मंदर को लेकर अचानक गरमा गया है. इसकी वजह उनका वो बयान है जिसमें उन्‍होंने न्‍यायपालिका पर ही सवाल उठाए हैं. इसके अलावा उन्‍होंने भाजपा के तीन नेताओं के खिलाफ विवादित बयान देने और उनपर एफआईआर दर्ज करने की मांग करते हुए सुप्रीम कोर्ट से गुहार भी लगाई थी. हालांकि यह उनके ऊपर ही भारी पड़ गई. भाजपा के जिन तीन नेताओं का जिक्र उन्‍होंने किया है उसमें कपिल मिश्रा, अनुराग ठाकुर और परवेश वर्मा का नाम शामिल है. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में जल्‍द सुनवाई से इनकार कर दिया था. सुप्रीम कोर्ट जाने के बाद बाद से ही वो सुर्खियों में हैं. 

ट्रेनी नर्स के साथ हॉस्पिटल मालिक ने किया रेप, फिर वीडियो बनाकर करता रहा ब्लैकमेल

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि सुप्रीम कोर्ट के समक्ष केंद्र सरकार की तरफ से पेश हुए सॉलीसीटर जनरल तुषार मेहता ने कोर्ट को बताया कि मंदर ने जामिया में हुए धरना प्रदर्शन में न सिर्फ भाग लिया बल्कि वहां पर विवादित बयान भी दिया था. आपको बता दें कि हर्ष मंदर नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हैं. पिछले वर्ष 19 दिसंबर को उन्‍हें आईटीओ पर हुए प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने हिरासत में लिया गया था.  

सीएम रुपाणी ने जनता को कोरोनावायरस से बचाने के लिए सुझाया तरीका

आपको बता दें कि हर्ष मंदर एक पूर्व आईएएस अधिकारी हैं. मंदर एक एक्‍शन एड के नाम से एक एनजीओ भी चलाते हैं. कर्ता हैं. मंदर को कई बड़े कांग्रेसी नेताओं का करीबी माना जाता है. वे मनमोहन सिंह के कार्यकाल के दौरान राष्ट्रीय सलाहकार परिषद के सदस्य भी रह चुके हैं. सोनिया गांधी इसकी अध्‍यक्ष थीं. इतना ही नहीं उन्‍हें यूपीए के दौरान लाए गए विवादित कम्युनल वायलेंस बिलक चीफ आर्किटेक्‍ट भी कहा जाता है. मंदर की पहचान सिर्फ यहीं पर आकर खत्‍म नहीं हो जाती है. 2008 में मुंबई पर हमला करने वाले आतंकवादी अजमल कसाब और 1993 के मुंबई सीरियल ब्लास्ट के दोषी याकूब मेमन की फांसी रोकने की मांग की थी. ये मांग उस वक्‍त की गई थी जब पूरा देश आंतकी कसाब को जल्‍द से जल्‍द फांसी होने की राह देख रहा था. 

प्रेमिका की हत्या कर तंदूर में पकाया, फिर छोटे-छोटे टुकड़े कर सड़क पर फेंका

शादी के बाद सास ने बहू का किया वर्जिनिटी टेस्ट

विधायक के भतीजे ने विधवा महिला के साथ किया दुष्कर्म, पुलिस ने दर्ज किया मामला

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -