सोशल मीडिया का दुरुपयोग करने वालों को लेकर सीएम पिनाराई विजयन ने दिया ये आदेश

कोच्ची: केरल के सीएम पिनाराई विजयन ने मंगलवार को बताया कि महामारी के वक़्त में प्रदेश में डिजिटल स्कूली शिक्षा एक बड़ी कामयाबी रही है। मगर असामाजिक गतिविधियों के लिए बच्चों के ऑनलाइन स्टडी प्लेटफार्मों का दुरुपयोग करने की कोशिश की गई। जिसके तहत सीएम ने ऐसे साइबर अपराधों के खिलाफ शख्स कार्रवाई की चेतावनी दी। उन्होंने राज्य विधानसभा को बताया कि हालांकि साइबर क्षेत्र के कई लाभ हैं। मगर आजकल असामाजिक तत्वों द्वारा इसका दुरुपयोग दोष करने तथा बच्चों को गुमराह करने के लिए किया जाता है।

उन्होंने कहा, ऐसा ही एक हस्तक्षेप फेक आईडी बनाकर ऑनलाइन क्लासेज की हैकिंग तथा (सोशल मीडिया) ग्रुप्स में अश्लील चर्चा तथा वीडियो अपलोड करना था, जिसमें बच्चे, अध्यापक तथा माता-पिता सदस्य हैं। हमें बगैर समझौता किए सुरक्षा सुनिश्चित करने की जरुरत है। विजयन MCP विधायक सचिन देव द्वारा हाल ही में कुछ निहित स्वार्थों द्वारा बच्चों के ऑनलाइन स्टडी प्लेटफार्मों में घुसपैठ करने की कोशिश पर एक सबमिशन का उत्तर दे रहे थे।

सीएम ने बताया कि इस सिलसिले में पुलिस को 51 ऐसी शिकायतें प्राप्त हुई हैं। सीएम ने कहा कि मिली तहरीरों की पुष्टि के पश्चात् कुल 8 केस दर्ज किए गए तथा तहकीकात जारी है। उन्होंने कहा कि कड़े जागरूकता के माध्यम से ही बच्चों को ऐसे खतरों के प्रति जागरूक किया जा सकता है तथा इसके लिए हमारी सामूहिक कोशिश की आवश्यकता है। सीएम ने विभिन्न स्तरों पर खास तौर पर बच्चों और समाज के अन्य कमजोर समूहों के खिलाफ साइबर अपराधों को रोकने के लिए प्रदेश पुलिस द्वारा उठाए गए कई उपायों का भी जिक्र किया।

नागपंचमी से पहले शिव मंदिर और शिवलिंग पर लिपटा नाग, उमड़ी भारी भीड़

मानसून सत्र: हंगामा करते रह गया विपक्ष, सरकार ने पारित करा दिया रक्षा क्षेत्र से जुड़ा अहम बिल

इस 15 अगस्त पर श्रीनगर के ऐतिहासिक हरि पर्वत किले पर लहराएगा 100 फीट लंबा तिरंगा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -