महिलाओं को इसलिए होती है AC से परेशानी

महिलाओं को इसलिए होती है AC से परेशानी

आपने देखा ही होगा ऑफिस में AC भी लगाए जाते हैं और कई बार इस पर बहस हो जाती है कि किसी को ठंड लगती है तो किसी को गर्मी. खासतौर पर महिलाओं को एसी की कूलिंग से समस्या रहती है. अपने आसपास नजर डालेंगे तो ऑफिस में कई महिलाएं स्वेटशर्ट, जैकेट या स्टोल जैसी चीज़ें लेकर आती हैं. अब यह बात साइंस ने भी मान ली है कि ठंडक का महिलाओं और पुरुषों पर अलग असर होता है. जानते हैं इसके बारे में. 

दरस, एक स्टडी के अनुसार, महिलाएं ज्यादा तापमान पर अच्छा परफॉर्म करती हैं, वहीं पुरुष कम तापमान पर ज्यादा प्रॉडक्टिव होते हैं. आपको बता दें, इस स्टडी में शोधकर्ताओं ने 500 लोगों के 24 ग्रुप बनाए. उन्होंने 61 से 91 डिग्री फॉरेनहाइट पर कई टेस्ट लिए. वहीं आपको यह बात जानकर हैरानी होगी कि ज्यादातर ऑफिस बिल्डिंग्स में टेम्प्रेचर इस तरह से सेट होता है जो पुरुषों के लिए आरामदायक होता है.

आपको  ये बता दें कि उन्हें ठंड क्यों लगती है, स्टडी में सामने आया कि महिलाओं के शरीर का मेटाबॉलिक रेट पुरुषों से काफी कम होता है. साथ ही उनकी बॉडी कम हीट रिलीज करती है जिससे उनके शरीर में गर्माहट नहीं रहती. लिहाजा आपके ऑफिस में कोई महिला एसी के बारे में शिकायत कर ले तो मान लीजिएगा कि ठंड वाकई ज्यादा है.

महिलाएं 77 डिग्री फॉरेनहाइट यानी 25 डिग्री सेल्सियस तापमान चाहती हैं वहीं पुरुष 72 डिग्री फॉरेनहाइट 22 डिग्री सेल्सियस में कम्फर्टेबल रहते हैं.

जानें क्या है सर्वाइकल कैंसर, ना करें नज़रअंदाज़

बिमारियों से दूर रखता पालक, जानें इसके पोषक तत्व

आपके फेवरेट फ्रूट जूस में भी होती है कैलोरी, जानिए उनकी मात्रा