प्रैक्टिकल के बहाने 17 लड़कियों के साथ हुआ घिनोना काम, इंटरनेशनल स्कूल के संचालक पर मुकदमा दर्ज

लखनऊ: यूपी के मुजफ्फरनगर जिले में 2 प्राइवेट स्कूल के मैनेजरों पर 17 लड़कियों को कथित रूप से नशीला पदार्थ देकर यौन उत्पीड़न करने तथा दुष्कर्म का प्रयास करने का इल्जाम है. पुलिस ने इस केस में दोनों लोगों  के विरुद्ध मामले दर्ज किए जा चुके है. जिसके साथ ही इस केस में लापरवाही बरतने को लेकर एक पुलिस अधिकारी को लाइन हाजिर किए जा चुके है.

मुजफ्फरनगर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव ने सोमवार को कहा है कि BJP के नेता और स्थानीय विधायक प्रमोद उटवाल के हस्तक्षेप के उपरांत परिवार की शिकायत पर केस रिकॉर्ड किए जा चुके है. उन्होंने कहा है कि पुरकाजी पुलिस थाना के प्रभारी विनोद कुमार सिंह को इस केस में कथित लापरवाही बरतने को लेकर लाइन हाजिर की जा चुकी  है. वहीं भोपा थाना स्थित सूर्य देव पब्लिक स्कूल के संचालक योगेश कुमार चौहान और पुरकाजी क्षेत्र में पड़ने वाले GGS इंटरनेशनल स्कूल के संचालक अर्जुन सिंह के विरुद्ध यौन उत्पीड़न, नशीला पदार्थ देने और पोक्सो एक्ट की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की जा चुकी है.

प्रैक्टिकल दिलाने लड़कियों को दूसरे स्कूल ले गया था मैनेजर: जहां इस बात का पता चला है कि यह कथित घटना उस वक़्त हुई, जब योगेश सूर्य देव पब्लिक स्कूल में पढ़ने वाली 17 लड़कियों को प्रायोगिक परीक्षा दिलाने के लिए GGS स्कूल में लेकर पहुंचे थे और उन्हें वहां रातभर रुकने की बात बोली गई. पीड़िताओं के परिजन की शिकायत के मुताबिक, दोनों आरोपियों ने नाबालिग लड़कियों को कथित रूप से नशीला पदार्थ खिलाकर उनका यौन उत्पीड़न किया और दुष्कर्म करने का प्रयास भी किया. 

दुनियाभर के 40 से अधिक देशों में फैला Omicron, बढ़ रही आमजन की परेशानी

हवा से फैल रहा ओमिक्रॉन, विशेषज्ञों ने किया दावा

सशस्त्र सेना झंडा दिवस आज, सीएम योगी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने दी बधाई

Most Popular

- Sponsored Advert -