सालों से मांगे पूरी न होने से इस स्कूल के स्टाफ ने छोड़ा विद्यालय, वजह केवल मांग ही नहीं यह ....

Feb 20 2020 05:57 PM
सालों से मांगे पूरी न होने से इस स्कूल के स्टाफ ने छोड़ा विद्यालय, वजह केवल मांग ही नहीं यह ....

चंडीगढ़: इस बदलते युग में बहुत सी चीजों में बदलाव आए है, जिसमे कई जगह प्रशासन साथ था. तो कही लोगों की सोच लेकिन कहीं न कही कई चीजों में लापरवाही और अनदेखी का मामला भी सामने आया है. जंहा हरियाणा में इंग्लिश मीडियम आरोही मॉडल स्कूलों के स्टाफ को रेगुलर करने, उनके सर्विस रूल्स को नोटिफाई करते हुए उन्हें सातवें वेतनमान का लाभ देने के मामले में अभी तक कोरे आश्वासन के सिवा कुछ नहीं है. इस संदर्भ में फाइल 2018 से टेबल-दर-टेबल घूमती जा रही है और आश्वासनों के बावजूद सरकार इस पर अभी तक फैसला नहीं ले पा रही है. जंहा इस बात का पता चला है कि नतीजतन इन स्कूलों के स्टाफ का इस नौकरी से ही मोहभंग होता जा रहा है. स्टाफ इन स्कूलों की नौकरी छोड़ दूसरा विकल्प चुन रहा है. आलम यह है कि 2232 स्वीकृत पदों वाले इन 36 इंग्लिश मीडियम आरोही मॉडल स्कूलों में आज करीब 350 टीचिंग व नॉन टीचिंग स्टाफ ही रह गया है.

मिली जानकारी के अनुसार इसके बावजूद ये स्कूल लगातार बोर्ड परीक्षाओं में अपना नब्बे फीसद से अधिक रिजल्ट दे रहे हैं. यही वजह है कि आज भी इन 36 स्कूलों में करीब 11 हजार छात्र शिक्षा ले रहा है. बेहद कम स्टाफ के बावजूद इन स्कूलों में बेहतर और सस्ती पढ़ाई ही छात्रों में इनके प्रति क्रेज का कारण है. क्वालिटी एजुकेशन के लिए खुले थे. वहीं यह भी कहा जा रहा है कि ये स्कूल हरियाणा के एजुकेशनली बैकवर्ड ब्लाक (ईबीबी) में क्वालिटी एजुकेशन उपलब्ध करवाने के मकसद से वर्ष 2013 में  इंग्लिश मीडियम आरोही मॉडल स्कूल खोले गए थे. इसमें 10 जिलों के 36 ब्लाक में इन्हें खोला गया था.

आज ये आरोही स्कूल पानीपत के गांव छज्जूकला, पलवल के रामगढ़, अली ब्राह्मण, लड़ियाका, गदपुरी, मेवात के हसनपुर बिलोंडा, मोहम्मदपुर नगर, नूंह केरेवासन, पुन्हाना के मुन्डेट, बावला, फतेहाबाद के सरवरपुर, दुलत, बनगांव, रतिया के जालूपुर, टोहाना के कनहेरी, महेंद्रगढ़ के मनधाना, कैथल के ग्यौंग, कलायत केरामगढ़ पंदवा, राजौंद के सोंगरी, जींद के हसनपुर, नरवाना के नारायणगढ़, उचाना के घेसुंखुर्द, हिसार केअग्रोहा, बरवाला के गेबीपुर, हांसी के घिराई, भिवानी रोहिला, खेरी लोचब, उकलाना, भिवानी के तोशाम, सिवानी खेरा, सिरसा के झीरी, कालूवाना, खारी सुरेरा, नौथसरी कलां, रानिया के मोहम्मद पुरिया में संचालित हैं.

2 सालों तक चला प्रेम संबंध, लड़की ने घरवालों के खिलाफ जाकर की शादी, 12 घंटे में ही हो गया तलाक़

भोपाल की बड़ी झील में पलटी नाव, IPS अफसरों समेत 8 लोग थे सवार

योगी राज में कुपोषण की मार, बच्चों की मौतों पर NHRC ने माँगा जवाब