पंजाब के बाद यूपी में आप की चलेगी चाल

कानपुर : आम आदमी पार्टी जहां पंजाब में चुनावी तैयारियों में लगी है वहीं वह उत्तरप्रदेश में भी खुद को मजबूत करने में लगी है। पंजाब में पार्टी 100 सीट मिलने का दावा कर रही है वहीं उत्तरप्रदेश में पार्टी का मसला है कि वह न तो दलितों का कार्ड अपनाएगी और न ही दबंगों का पक्ष लेगी। वह अगल तरह से उत्तरप्रदेश में अपनी धाक जमाएगी। पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि 2 माह के बाद उनकी पार्टी पूरा प्लान सभी के सामने रखेगी। इस मामले में संजय सिंह ने केंद्र सरकार के 2 वर्ष के कार्यकाल पर कई तरह के प्रश्न भी उठाए।

उनका कहना था कि उत्तरप्रदेश में कानून व्यवस्था बिगड़ने को एक महत्वपूर्ण मामला बनाया जाएगा। इस मामले में संजय सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार देश की जतनता से अच्छे दिन लाने के भरोसे पर सरकार बनाने की तैयारी में थी। देश ने अच्छे दिन आए, मगर गरीब और दबी कुचली जनता हेतु नहीं बल्कि अडानी, विजय माल्या, अंबानी, ललित मोदी आदि के लिए। व्यावसायिक परीक्षा मंडल के घोटालेबाजों के लिए अच्छे दिन आए हैं प्रधानमंत्री बनने के पहले नरेंद्र मोदी जी ने कई तरह की बातें कही थीं।

सीमा पर भारतीय सैनिकों के सिर काटने की घटना होने पर उसने कहा कि इसके बदले 10 सिर काटकर लाने का वायदा किया गया था। पीएम मोदी सरकार के 2 वर्ष आम जनता के लिए बेहद निराशाजनक रहे। वे कालेधन पर पलटी मार गए। उन्होंने कटाक्ष किया और कहा कि ओवैसी और आदित्यनाथ व्यवस्था के लिए खतरा बन गए हैं।

उन्होंने कहा कि उत्तरप्रदेश में तो अखिलेश सरकार के कार्यकाल के 4 वर्ष पूर्ण हो गए मगर यहां पर न तो कानून व्यवस्था है और न ही जातिवाद समाप्त हुआ। यहां पर 600 बड़े दंगे हुए। मुलायम सिंह पर उन्होंने निजी कंपनी चलाने और परिवारवादी दृष्टिकोण अपनाने का आरोप लगाया।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -