AAP में बगावत, बनाऐंगे नई पार्टी

जालंधर : आम आदमी पार्टी में एक बार फिर फूट की बात सामने आ रही है। इस दौरान यह बात कही गई है कि आम आदमी पार्टी की पंजाब इकाई के असंतुष्ट नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा बैठक में पार्टी छोड़ नई पार्टी बनाने की घोषणा की गई। इस दौरान यह बात भी सामने आई कि 11 सदस्यीय समन्वय समिति भी तैयार की गई। इस दौरान कहा गया कि असंतुष्ट कार्यकर्ताओं की बैठक में दल द्वारा निलंबित कर दिया गया। इस मामले में यह बात भी सामने आई है कि कई असंतुष्ट कार्यकर्ता की बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में 'आप' के ही निलंबित सांसदों द्वारा भी भागीदारी की गई। 

कार्यकर्ताओं की बैठक में कहा गया कि आम आदमी पार्टी अपनी नीतियों से भटक रही है। इस नीति के तहत कार्य करने के साथ ही नया फ्रंट तैयार करने की बात की जा रही है। इस मामले में कहा गया है कि आम आदमी पार्टी से निकाले गए नेता द्वारा कहा गया कि आम आदमी पार्टी अपने मूल कार्य से ही अलग होकर कार्य कर रही है।  फ्रंट के कार्यों के लिए 11 सदस्यीय समन्वय समिति तैयार की गई है।

पंजाब के अलावा हिमाचल प्रदेश के कई जिलों के कार्यकर्ताओं द्वारा भी फ्रंट का गठन किया गया। पार्टी से अलग हटकर फ्रंट बनाया गया। इस बैठक में आम आदमी पार्टी के निलंबित सांसद गांधी के साथ खालसा भी मौजूद थे। उल्लेखनीय है कि पार्टी के कुछ सांसदों को पार्टी विरोधी गतिविधियां संचालित करने के मामले में निष्कासित कर दिया गया। दूसरी ओर पार्टी में बगावत का बिगुल बज उठा। यही नहीं यह भी कहा गया कि आम आदमी पार्टी में मुख्यमंत्री केजरीवाल किसी की चलने नहीं देते हैं। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -