आप को बड़ा झटका, 300 से अधिक पदाधिकारियों ने दिया इस्तीफा

हरिद्वार: उत्तराखंड में आम आदमी पार्टी को फिर से झटका लगा है। जी दरअसल हाल ही में मिली जानकारी के तहत कर्नल अजय कोठियाल और पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष भूपेश उपाध्याय के बाद तीन सौ से अधिक पदाधिकारियों ने सामूहिक इस्तीफा दिया है। आप सभी को बता दें कि पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भेजे गए इस्तीफे में पदाधिकारियों ने वर्तमान में जिस तरह से संगठन काम रहा है और उससे ऐसा लगता है कि उत्तराखंड में आप का कोई भविष्य नहीं है।

जी दरअसल पार्टी के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष भूपेश उपाध्याय के माध्यम से तीन सौ से अधिक पार्टी के पदाधिकारियों ने सामूहिक इस्तीफा पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल को भेजा है। कहा जा रहा है पार्टी छोड़ने वालों में पूर्व प्रवक्ता नवीन पिरशाली, सैनिक प्रकोष्ठ के पूर्व अध्यक्ष कर्नल सुनील कोटनाला (सेनि) समेत विधानसभा और जिलों के पूर्व पदाधिकारी शामिल हैं। इसी के साथ इस बारे में भूपेश उपाध्याय ने कहा कि, 'आम आदमी पार्टी की नीतियों पर भरोसा जता कर जिन पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने संगठन की मजबूत के लिए काम किया। पार्टी की कथनी और करनी में अंतर है। जिससे आहत होकर 90 प्रतिशत पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने पार्टी छोड़ दी है।'

इसके अलावा उन्होंने कहा कि जो भी पदाधिकारी व कार्यकर्ता पार्टी छोड़ कर गए हैं। उनकी जल्द ही बैठक बुलाई जाएगी। जिसमें आगे की रणनीति पर चर्चा की जाएगी। आगे उन्होंने यह भी कहा कि, 'पार्टी में कुछ लोगों ने संगठन को बर्बाद करने की कोशिश की है। इसके बावजूद पार्टी के प्रत्याशियों ने विपरीत परिस्थितियों में विधानसभा चुनाव लड़ा है। उत्तराखंड में पार्टी की जो हार हुई है। उसके लिए पार्टी के कुछ लोग जिम्मेदार हैं।'

वहीं दूसरी तरफ पूर्व प्रवक्ता नवीन पिरशाली ने कहा कि पार्टी में संगठन और सिस्टम नाम की कोई चीज नहीं है। जिससे उन्होंने इस्तीफा देने का फैसला लिया है। कहा जा रहा है राज्य में पार्टी को मजबूत करने के लिए एक-एक कार्यकर्ताओं जोड़ा है लेकिन पार्टी ने काम करने वालों को नजरअंदाज किया है।

अखिलेश यादव ने केसीआर से मुलाकात की और राष्ट्रीय मुद्दों पर की बात

सुंदरलाल बहुगुणा की पुण्यतिथि पर इन दिग्गजों ने दी श्रद्धांजलि

एक सप्ताह की राष्ट्रीय यात्रा के लिए केसीआर दिल्ली में

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -