पंजाब में 'बिजली' पर सियासत जारी, आप के कार्यकर्ताओं ने घेरा सीएम अमरिंदर का फार्म हाउस

अमृतसर: भीषण गर्मी में पंजाब में बिजली संकट लगातार गहराता जा रहा है। अब इस पर सियासत भी तेज हो गई है। शुक्रवार को शिअद-बसपा गठबंधन ने राज्य में विरोध प्रदर्शन किया था। वहीं, आज शनिवार को आम आदमी पार्टी (आप) ने सिसवां में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के फार्महाउस का घेराव किया। पुलिस ने आंदोलन कारियों को रोकने के लिए बैरिकेडिंग कर रखी थी। आप कार्यकर्ताओं ने पहला बैरिकेड तोड़ दिया। जिसके बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर वाटर कैनन का प्रयोग किया।

इस दौरान AAP के पंजाब प्रदेशाध्यक्ष और सांसद भगवंत मान ने कहा कि पंजाब के लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं और सिर्फ एक शख्स अपने घर में बैठा आनंद ले रहा है। हम मुख्यमंत्री के फार्म हाउस का मीटर चेक करने आए हैं, ताकि पता लग सके कि यहां कितने घंटे पॉवर कट हो रहा है। मान ने आरोप लगाते हुए कहा कि अकाली दल और भाजपा की सरकार में लागू पंजाब विरोधी बिजली समझौते और माफिया राज कैप्टन के राज में भी जारी हैं। 

उन्होंने कहा कि बिजली मंत्री होने के नाते सीएम अमरिंदर को मौजूदा बिजली संकट की नैतिक जिम्मेदारी लेनी चाहिए। बिजली संकट पर सुखबीर बादल के प्रदर्शन को भगवंत मान ने नाटक बताते हुए कहा कि अकाली दल और भाजपा की सरकार ने प्राइवेट बिजली कंपनियों के साथ गलत करार किए थे। उन्होंने पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया से सवाल पुछा कि वह बताएं अकाली सरकार के शासन में कितने सोलर पावर प्लांट और किस-किस के नाम पर लगाए थे।

अफगान के बदख्शां प्रांत में तालिबान विद्रोहियों ने की तोड़फोड़

80 करोड़ लोगों से सीधे जुड़ने के लिए भाजपा ने बनाया मास्टरप्लान, जेपी नड्डा खुद संभालेंगे कमान

चुनावी हलचल के बीच अखिलेश यादव से मिलने पहुंचे AAP नेता संजय सिंह

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -