आलू में मोटर के बदले गोबी डाल देता हूं

नेपाली नौकर : (सुबह सुबह)– ओ शाब जी!!
मोटर खराब हो गई।।

साहब जी बड़ा परेशान!!!!

अब क्या करुं नहाऊंगा कैसे??
इस कम्बख्त मोटर को भी सुबह ही खराब होना था।

नौकर: क्या करूं शाब जी ??
फैंक दूं इशको क्या?

साहब जी : पागल है क्या , करवाता हूं शाम तक ठीक.

नौकर : ठीक है शाब जी.
तो फिर ….. . . . . . . आज…… . . . . . . . . . . . . . . . . .
आलू में मोटर के बदले गोबी डाल देता हूं शाब जी..

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -