आखो से पूछ लो

आखो से पूछ लो

जिंदगी की मंजिलो में.

रास्ते बदल जाते है.

कई बार वक्त की आधी में.

इंसान बदल जाते है.

सोचता हुँ तुम्हे याद न करू.

लेकिन आखे बंद करते ही.

हमारे इरादे बदल जाते है.

रातो में तुम्हारे सपने है ये हमारा हाल है

दिन ऐसे गुजरता है जैसे

एक साल है

फिर भी न हो यकीन

तो मेरी आखो से पूछ लो

जब से गए हो आज तक गीला रुमाल है