पंचांग: आज से आरम्भ हुए नवरात्र, जानिए क्या है शुभ और अशुभ मुहूर्त

Oct 17 2020 08:20 AM
पंचांग: आज से आरम्भ हुए नवरात्र, जानिए क्या है शुभ और अशुभ मुहूर्त

आज से नवरात्रि का पावन पर्व शुरू हो रहा है. आप सभी को बता दें कि यह पर्व बहुत ही धूम धाम से मनाया जाने वाला पर्व है. इस पर्व को नौ दिनों तक मनाया जाता है और हर साल इन नौ दिनों में गरबे का आयोजन होता है लेकिन इस साल कोरोना काल के चलते ऐसा नहीं हो पाएगा. ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं आज का यानी 17 अक्टूबर का पंचांग.

राष्ट्रीय मिति अश्विन 25 शक संवत 1942 आश्विन शुक्ल प्रतिपदा शनिवार विक्रम संवत 2077। सौर कार्तिक मास प्रविष्टे 01 सफर 29 हिजरी 1442 (मुस्लिम) तदनुसार अंग्रेजी तारीख 17 अक्टूबर सन् 2020 ई॰।

सूर्य दक्षिणायन, दक्षिणगोल, शरद् ऋतु । राहुकाल प्रातः 09 बजे से 10 बजकर 30 मिनट तक। प्रतिपदा तिथि रात्रि 09 बजकर 09 मिनट तक उपरान्त द्वितीया तिथि का आरंभ।


चित्रा नक्षत्र पूर्वाह्न 11 बजकर 52 मिनट तक उपरान्त स्वाती नक्षत्र का आरंभ, विष्कुम्भ योग रात्रि 09 बजकर 24 मिनट तक उपरान्त प्रीति योग का आरंभ।

किस्तुघ्न करण पूर्वाह्न 11 बजकर 05 मिनट तक उपरान्त बालव करण का आरंभ। चन्द्रमा दिन-रात तुला राशि पर संचार करेगा।

सूर्योदय का समय 17 अक्‍टूबर : सुबह 06 बजकर 23 म‍िनट पर।

सूर्यास्त का समय 17 अक्‍टूबर : शाम 05 बजकर 49 मिनट पर।

आज का शुभ मुहूर्त : अभिजीत मुहूर्त सुबह 11 बजकर 43 म‍िनट से 12 बजकर 29 म‍िनट तक। विजय मुहूर्त दोपहर 02 बजे से 02 बजकर 46 मिनट तक। गोधूलि मुहूर्त शाम को 5 बजकर 38 मिनट से 6 बजकर 2 मिनट तक। निशीथ काल रात 11 बजकर 41 म‍िनट से 12 बजकर 32 मि‍नट तक। अमृत काल मध्‍य रात्रि 1 बजकर 10 मिनट से 2 बजकर 34 तक। ब्रह्म मुहूर्त अगले दिन सुबह 4 बजकर 43 मिनट से 5 बजकर 33 मिनट तक। सर्वार्थ सिद्धि योग पूरे दिन रहेगा।

आज का अशुभ मुहूर्त : राहुकाल सुबह 9 बजे से 10 बजकर 30 मिनट तक। यमगंड दोपहर 1 बजकर 30 म‍िनट से 03 बजकर 30 म‍िनट तक। गुल‍िक काल सुबह 06 बजे से 7 बजकर 30 म‍िनट तक।

फल-सब्जियों से नहीं फैलता कोरोना, मरीजों के 'मुंह में फल' रखकर की गई रिसर्च

विश्व खाद्य दिवस 2020 पर एफएओ संदेश

जानिए क्यों मनाया जाता है अंतरराष्ट्रीय गरीबी उन्मूलन दिवस