सूर्योदय से पहले करें स्नान तो लाभ ही लाभ

सूर्योदय से पहले करें स्नान तो लाभ ही लाभ
Share:

हर दिन स्नान करने से न केवल शरीर शुद्ध रहता है वहीं दिलों दिमाग भी तरोताजा बना रहता है। ज्योतिष शास्त्र में स्नान करने का महत्व बताया गया है। प्रातःकाल स्नान करने के बाद ही व्यक्ति शुद्ध होकर जप, पूजा पाठ आदि कर्मों के लिये योग्य माना जा सकता है।

हमारा शरीर नौ छिद्रों वाला मलीन शरीर होता है, इसलिये इसे शुद्ध बनाये रखने के लिये स्नान करना जरूरी है। ज्योतिष शास्त्र में यह उल्लेख मिलता है कि शुद्ध तीर्थ में प्रातःकाल स्नान करने से व्यक्ति को भूत प्रेत नहीं सताते है। अमुमन लोग सुबह का स्नान करने में समय का ध्यान नहीं रखते है। शास्त्र यह कहता है कि स्नान का सर्वश्रेष्ठ समय सूर्योदय से पहले है।

सूर्याेदय से पहले स्नान करना अति उत्तम होता है वहीं इससे उत्तम फल प्राप्त तो होता ही है वहीं लाभ की भी प्राप्ति होती है। सूर्योदय के पहले स्नान करने वाला व्यक्ति न तो कभी बीमार होता है और न उसे कोई ग्रह अधिक पीड़ा ही देता है। ज्योतिष शास्त्र में निःशक्तों के लिये छूट है। यदि अशक्त व्यक्ति प्रातःकाल स्नान करने में असमर्थ है तो उसे गीले वस्त्र से ही शरीर पोंछ लेना चाहिये।

प्रातःकाल स्नान करने वाले व्यक्ति को तेजस्वीता प्राप्त होती है और रूप का भी निखार आता है। ग्रह योग परेशान कम करते है, हर काम सिद्ध होना शुरू हो जाते है और ईश्वर की कृपा भी मिलने का सिलसिला शुरू हो जाता है। ज्योतिष शास्त्र यह कहता है कि जिसने सूर्योदय के पहले या सूर्य की पहली किरण के साथ स्नान कर लिया उसके समस्त पापों का नाश हो जाता है।

Video : हाथी ने की महिला के साथ हरकत, जिसे देखकर आप भी उससे दूर ही रहेंगे

जानिए वास्तु के अनुसार कहाँ हो घर का मंदिर

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -