पवित्र नगरी के लिए स्वर्णिम भारत मंच का अनशन

उज्जैन: नगर निगम आयुक्त आशीषसिंह के समक्ष स्वर्णिम भारत मंच के द्वारा ८ फरवरी को पवित्र नगरी में से वैध.अवैध खुली हुई अंडे चिकन मांस की दुकानें हटाने के लिये आक्रोश व्यक्त करते हुए ज्ञापन दिया था। जिस पर आयुक्त ने ३ दिन में कार्यवाही करने का भरोसा स्वर्णिम भारत मंच के कार्यकताओं को दिलाया था। परंतु आज तक नगर निगम की ओर से महाकाल मंदिर एवं क्षिप्रा परिक्षेत्र में से  दुकानें नहीं हटाई जिससे आहत होकर स्वर्णिम भारत मंच २० फरवरी को अनशन पर बैठेगा। जिसके लिए स्वर्णिम भारत मंच के कार्यकर्ता शहीद पार्क पर आम लोगों से अनशन पर बैठने के लिए संकल्प पत्र भरवायेंगे। 

स्वर्णिम भारत मंच के दिनेश श्रीवास्तव ने कहा कि बाबा महाकालेश्वर एवं मोक्षदायिनी माँ क्षिप्रा के परिक्षेत्र का  धार्मिक वातावरण बनायें रखने की जिम्मेदारी नगर निगम उज्जैन की है। परंतु नगर निगम के जिम्मेदार इस पर ध्यान नहीं देते  हैं। इस कारण से नगर के प्रमुख मंदिरों के आसपास बहु संख्या में  मांस मदिरा की दुकान खुल चुकी है। इन दुकानदारों के पास किसी भी तरह की वैधानिक अनुमति नहीं होने के बाद भी प्रशासन हटाने की कार्यवाही नहीं कर रहा है। 
 

राष्ट्र संत कमलमुनि जी की पदयात्रा शुरू

राष्ट्र संत कमलमुनि कमलेश के जन्मदिन के अवसर पर मिशन पवित्र उज्जैन से आम लोगों को जोड़ने के लिये स्वर्णिम भारत मंच  शहीद पार्क पर संकल्प पत्र भरवायेगा। मांग को लेकर राष्ट्र संत कमलमुनि जी महाराज  महाराष्ट्र से उज्जैन के लिए पदयात्रा शुरू कर चुके है। 

शिप्रा में स्नान....महाकाल उद्घोष के साथ गाड़ा होली का डांडा

दोपहर की भस्मारती पर वीआईपी का कब्जा...! सामान्य को कर रहे दरकिनार!

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -