रहमान ने अपने ऊपर उठे सवालो का दिया जवाब...

रहमान ने अपने ऊपर उठे सवालो का दिया जवाब...

ए आर रहमान ने पैग़ंबर मोहम्मद पर बन रही फिल्म मे अपना संगीत दिया है। रहमान ने इस फिल्म मे संगीत दिया तो उन पर बहुत से सवाल उठे है रहमान ने अपने ऊपर उठे सारे सवालो का जवाब दिया है। इस फिल्म मे मुसलमानों के धर्म का मज़ाक उड़ाया गया है। इस फिल्म मे संगीत देने के लिये ए आर रहमान की भी बहुत बुराई हुई है। इस फिल्म पर प्रतिबंध लगाने के लिये गृहमंत्री राजनाथ सिंह और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को पत्र भी लिखा गया है।

सईद नुरी ने कहा है कि इस फिल्म के निर्माता निर्देशक और ए आर रहमान को ऐसी फिल्म करने के लिये माफी मांगना चाहिए। 'मोहम्मद: मैसेंजर ऑफ़ गॉ़ड' फिल्म ईरान मे बनी सबसे मंहगी फिल्म है। इस फिल्म को बनाने के लिये 240 करोड़ रूपये खर्च हुए है। सोमवार शाम को रहमान ने अपने ऊपर उठ रहे सारे सवालो का जवाब फेसबुक पर दिया है। रहमान ने लिखा है कि मै इस्लाम का ज्ञाता तो नहीं हूँ और मै दोनों संस्कृति का सम्मान करता हूँ। जो लोग जैसे है उनसे वैसे ही प्यार करता हूँ किसी के साथ कोई मतभेद नहीं करता हूँ। रहमान ने कहा है कि यह फिल्म उन्होने नहीं बनाई है उन्होने तो सिर्फ इस फिल्म मे अपना संगीत दिया है।

रहमान ने ये भी लिखा कि फिल्म मे संगीत देकर वे किसी की भावना को ठेस नहीं पहुंचाना चाहते थे। इस फिल्म मे संगीत रहमान ने अच्छी भावना के लिये दिया था। फिल्म मे संगीत देते समय उन्हे जो महसूस हुआ वे सबके साथ बांटना नहीं चाहते है। रहमान ने हमारे भारत देश की तारीफ की है रहमान ने लिखा है कि हम लोग बहुत भाग्यशाली है जो भारत देश मे रहते है। इस देश मे धार्मिक आजादी है। सभी धर्म के लोग हिंसा और नफरत को दूर रख कर शांति से जीना चाहते है। रहमान ने आखरी मे लिखा है कि हमे हिंसा से दूर रहना चाहिए और एक दूसरे के साथ रहना चाहिए। रहमान ने एक दूसरे को माफ करने के लिये अपील की है।