जिनके हाथ में होता है यह निशान, वह बनते हैं धनवान और परोपकारी

कहते हैं सूर्य पर्वत की अन्‍य ग्रहों के साथ की स्‍थिति भी व्‍यक्‍ति को कई तरह से प्रभावित करती है और ज्योतिषों के अनुसार सूर्य पर्वत पर तारे का चिन्ह हो तो यह धन का नुकसान करने वाला होता है. कहते हैं यह व्‍यक्‍ति को अप्रत्‍याशित अप्रसिद्धि भी दिलाता है और गुणा का चिन्ह हो तो सट्टा या शेयर में धन का नाश हो सकता है. कहा जाता है सूर्य पर्वत पर त्रिभुज हो तो उच्च पद की प्राप्ति, प्रतिष्ठा तथा प्रशासनिक लाभ मिल जाते हैं और सूर्य पर्वत पर चौकड़ी हो तो सर्वत्र लाभ तथा सफलता की प्राप्ति होने लगती है.

इसी के साथ त्रिशूलाकार चिन्ह यश, आनंद, विलासिता व सफलता प्रदान करता है और हथेली में सूर्य पर्वत के साथ यदि बृहस्पति का पर्व उन्नत है तो व्यक्ति विद्वान, ज्ञानवान, मेधावी और धार्मिक विचारों वाला होता है. कहा जाता है अगर सूर्य और शुक्र पर्वत उभार वाले हैं तो ऐसा व्‍यक्‍ति विपरीत लिंग के प्रति शीघ्र एवं स्थायी प्रभाव डालने वाला, धनवान, परोपकारी, सफल प्रशासक, सौंदर्य और विलासिताप्रिय होता है और ज्योतिषों के अनुसार जिस तरह से सूर्य पर्वत का अच्‍छा होना व्‍यक्‍ति के जीवन में अनेक सुविधाएं और सम्‍मान का कारण बनता है.

वैसे ही यदि सूर्य पर्वत दूषित हो जाए तो व्‍यक्‍ति कामी, लोभी, घमंडी और चरित्रहीन तक बना देता है. कहते हैं सूर्य पर्वत पर जाली हो तो गर्व करने वाला किंतु कुटिल स्वभाव वाला माना जाता है और ऐसा व्‍यक्‍ति किसी पर विश्‍वास नहीं कर सकता है क्योंकि उसे इससे नफरत होती है.

घर में सकारात्मकता लाने के लिए करें यह उपाय

कल है शीतला सप्तमी, भूलकर भी ना खाए ताजा भोजन

शीतला सप्तमी पर माता को लगाए ठंडी चीज़ों का भोग

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -