NEET एग्जाम के अगले दिन ही अपने घर से गायब हुई छात्रा, परिजनों ने दर्ज की शिकायत

तमिलनाडु: नेशनल एलिजिबिलिटी एंट्रेंस टेस्ट (नीट) से जुड़े छात्रों की मौत की खबर हर दिन सामने आ रही है, इतना ही नहीं आज फिर एक और दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। तमिलनाडु के नमक्कल जिले में नीट की परीक्षा देने के कुछ दिनों के उपरांत 19 साल की एक लड़की अपने घर से गायब हो गई। लड़की के माता-पिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। श्वेता के माता-पिता ने कहा कि नीट आंसर की को क्रॉस चेक करने के तुरंत बाद उनकी बेटी 17 सितंबर को लापता हो गई थी। परिजनों ने रासीपुरम पुलिस में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई है।

इसके पहले तमिलनाडु सरकार ने एक नया विधेयक पेश किया था जो राज्य के मेडिकल उम्मीदवारों को NEET से छूट देगा। चिकित्सा शिक्षा के लिए विधेयक योग्यता परीक्षाओं के आधार पर स्नातक चिकित्सा पाठ्यक्रमों में प्रवेश प्रदान किया जाएगा। “इस विधेयक के माध्यम से, सरकारी और निजी संस्थानों में मेडिकल स्नातक सीटों के लिए सीट आवंटन कक्षा 12 के अंकों के आधार पर किया जाएगा। उच्च स्तरीय समिति की सिफारिशों पर विचार करने और सामाजिक न्याय, समानता की रक्षा करने और विशेष रूप से प्रभावित बच्चों की सुरक्षा के लिए एक मजबूत स्वास्थ्य आधारभूत संरचना बनाने के लिए, स्नातक के आवंटन के लिए कक्षा 12 के सार्वजनिक परीक्षा अंकों के आधार पर विधेयक पारित किया जाएगा। 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कुछ समय पहले अभिनेता सूर्या ने एक वीडियो  शेयर किया था, जिसमे कई छात्रों को हिम्मत से काम लेने की बात कही गई है,  क्योंकि NEET परीक्षा से संबंधित छात्रों की आत्महत्या के कई मामले सामने आए हैं। अभिनेता सूर्या ने छात्रों से शांत रहने और परीक्षा को लेकर आत्मघाती कदम नहीं उठाने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि किसी की जान लेना माता-पिता को दी जाने वाली सबसे बड़ी सजा है, जो माता-पिता के लिए आजीवन कारावास के बराबर है।

कभी टैक्स तो कभी लोगों की सुरक्षा को लेकर बोले नितिन गडकरी- "अमीर हो या गरीब सुरक्षा सबके लिए..."

सुखजिंदर रंधावा नहीं चरणजीत सिंह चन्नी होंगे पंजाब के नए मुख्यमंत्री

बड़ा सियासी बदलाव! नागालैंड में बिना विपक्ष के चलेगी सरकार

Most Popular

- Sponsored Advert -