बीच नदी में लगी आग..जलकर मर गए 39 लोग, 100 से ज्यादा घायल अस्पताल में भर्ती

ढाका: बांग्लादेश के झालाकाठी में एक दर्दनाक हादसा होने की खबर मिल रही है। शुक्रवार (24 दिसंबर 2021) को सुगंधा नदी में एक फेरी में आग लगने के कारण 39 लोगों की जान चली गई है। वहीं 200 से ज्यादा लोग बर्न इंजरी का शिकार बताए जा रहे हैं। आग सुबह लगभग 3 बजे लगी। आग इतनी भीषण थी कि तीन मंजिला फेरी ‘MY Obhijan’ जलकर ख़ाक हो गई।

रिपोर्ट के अनुसार, झालाकाठी जिले के एडिशनल कमिश्नर मोहम्मद नजमुल आलम ने कहा है कि फेरी में लगभग 1000 लोग सवार थे। यह फेरी राजधानी ढाका से बरगुना जिले की तरफ जा रही थी। फायर सर्विस के डिप्टी डायरेक्टर कमल हुसैन भुइयाँ ने जानकारी दी है कि 70 से ज्यादा लोगों को स्थानीय अस्पतालों में उपचार के लिए एडमिट किया गया है। स्थानीय पुलिस चीफ मोइनुल इस्लाम ने मीडिया को बताया है कि, अधिकतर लोगों की आग की चपेट में आने से मौत हो गई है औऱ कुछ नदी में कूदने के बाद डूबकर मर गए। उन्होंने कहा कि, हमने लगभग 100 लोगों को बरीसाल के अस्पतालों में भर्ती कराया है। ये सभी जले हुए हैं।

फेरी की आग में जिंदा बचे एक शख्स सईदुर रहमान के अनुसार, सुबह के लगभग 3 बजे इंजन रूम में आग भड़क गई और यह तेजी से फैलने लगी। अपनी जान बचाने के लिए कई लोग पानी में कूद गए, जिनमें से कुछ किनारे तक पहुँचने में कामयाब रहे। रहमान के अनुसार, जलने की दुर्गंध आने पर वे भी अपने VIP केबिन से बाहर निकले और बीवी और साले के साथ ठंडे पानी में कूद गए और तैरकर किनारे तक पहुँचे। बता दें कि बांग्लादेश में इससे पहले इसी साल जुलाई में औद्योगिक शहर रूपगंज में एक खाद्य और पेय कारखाने में आग लगने से 52 लोगों की जान चली गई थी। इसी प्रकार की एक अन्य घटना इसी साल अगस्त में हुई थी, जब एक नाव रेत से लदे मालवाहक जहाज से झील में टकरा गई थी, जिसमें 20 लोग मर गए थे।

ओमिक्रॉन के कारण बैंकॉक ने नए साल के आधिकारिक कार्यक्रम रद्द किए

टेक्सास एक्सॉनमोबिल प्लांट में आग लगने से 4 लोग घायल

जब से तालिबान ने सत्ता संभाली है, 40% अफगान मीडिया आउटलेट बंद हो गए हैं: रिपोर्ट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -