महाकाल नगरी में हुई श्रद्धालुओं से ठगी, शिकायत हुई दर्ज

Feb 14 2020 10:47 AM
महाकाल नगरी में हुई श्रद्धालुओं से ठगी, शिकायत हुई दर्ज

उज्जैन: महाशिव रात्रि के समीप आते ही यहाँ पर भस्मारती को लेकर विवाद उत्पन्न हो रहे है. महाकाल मंदिर में प्रतिदिन सुबह होने वाली निशुल्क भस्मारती दर्शन के दलाल इंदौर से फैलते जा रहे हैं. वही गुरुवार को हॉलैंड के छह श्रद्धालुओं से भस्मारती दर्शन के लिए 13 हजार रुपए ठगी का मामला सामने आया है. जी हां मृत पुरोहित गोपाल व्यास के नाम से भस्मारती अनुमति कराकर उन्हें दर्शन कराए. इस मामले का खुलासा होने पर पुलिस ने पुरोहित व्यास के बेटे हिमांशु, उसके ठग साथी सुमित और मनोज जोशी के खिलाफ धोखाधड़ी और महाकाल अधिनियम के तहत केस दायर कर लिया गया है.


वही भारतीय मूल के कृष्णा शर्मा हालैंड के मेली सेंट स्ट्रीट जाेटेमीट में रहते हैं. वे एक एडवाइजर कंपनी के मैनेजर हैं. वही कुछ दिन पहले रिश्तेदार अंबालिका, कीर्ति, धर्मावती, कृष्णा देवी और नरेंद्र के साथ भारत की धार्मिक यात्रा पर आए है. वे सभी दिल्ली और हरिद्धार दर्शन के पश्चात् इंदौर पहुंचे. यहां बुधवार को मल्हार हाेटल में ठहरे. हाेटल में सुमित नामक व्यक्ति ने उन्हें भस्मारती दर्शन के बारे में बताया और 10 हजार रुपए ठग लिए. वही कहा- उज्जैन में मनाेज जाेशी से मिल लेना. वह आपको गुरुवार सुबह मंदिर पहुंचने पर भस्मारती  करवा देगा. जिसके लिए आपको  मनोज जोशी से संपर्क करना होगा. उसने तीन हजार रुपए लेकर गर्भगृह से भस्मारती दर्शन कराए. दर्शन के पश्चात् मनोज ने 500 रुपए और मांगे. श्रद्धालुओं ने आपत्ति जताई कि वे ज्योतिर्लिंग को स्पर्श तक नहीं कर पाए. जल चढ़ाने का मौका भी नहीं मिला दिया गया दोनों पक्षों में विवाद बढ़ा तो मामला मंदिर प्रशासन तक पहुंचा. वही श्रद्धालुओं ने इसकी लिखित शिकायत दी है. महाकाल थाना पुलिस ने मामले में सुमित, हिमांशू व्यास और मनाेज जाेशी के खिलाफ केस दायर किया है.

पं. गोपाल व्यास का निधन चार महीने पहले हो गया. परन्तु उनके नाम से अब भी भस्मारती परमिशन जारी हो रही है. इस मामले पर श्रद्धालुओं की शिकायत के पश्चात् भस्मारती प्रभारी मूलचंद जूनवाल ने मामले की जांच की. तीन घंटे पश्चात् सौंपी जांच रिपोर्ट में कहा- इंदाैर के हाेटल संचालक के संपंर्क में रहकर मृत पुराेहित के पुत्र हिंमाशु व्यास ने परमिशन कराई थी. जूनवाल ने कहा  व्यास के निधन के पश्चात् उनके नाम से भस्म आरती के लिए उनके पुत्र व प्रतिनिधि फार्म लेने आते रहे हैं. वही पुराेहित के परिजन विकास व्यास ने गाेपाल व्यास के निधन की पुष्टि भी की है.

बदमाश युवकों ने किया सरकारी जमीन पर कब्ज़ा, किराए के नाम पर ठग रहे हजारों रूपए

सपा कार्यकर्त्ता ने 4 युवकों पर लगाया बेटी के अपहरण का आरोप, जांच में जुटी पुलिस

बिहार में अपराधी बेख़ौफ़, बालू व्यवसायी को सरेआम मारी गोली